रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 21:53 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
यूपी: अमरोहा में हाईवे पर कावड़ियों को डीजे बजाकर आने से न रोक पाने पर जिवाई चौकी इंचार्ज लाइन हाजिर।
दो महीने के अंदर बने कठोर कानूनः केजरीवाल
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:23-12-2012 03:55:59 PMLast Updated:23-12-2012 05:17:54 PM
Image Loading

आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल इंडिया गेट पर गैंगरेप की घटना के खिलाफ जुटे प्रदर्शनकारियों के बीच रविवार को पहुंचे और मांग की कि रेप के मामले में दोषियों को कड़े दंड के लिए दो महीने के अंदर कठोर कानून बनाया जाए।

नई दिल्ली के इलाके में आज सुबह लगाई गई धारा 144 को अभूतपूर्व स्थिति बताते हुए अपने सहयोगी मनीष सिसौदिया, कुमार विश्वास और गोपाल के साथ इंडिया गेट पहुंचे। इससे पहले उन्होंने ट्विटर पर अपने संदेश में कहा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए धारा 144 का हर हाल में उल्लंघन करना होगा। वह अपने मित्रों के साथ इसको तोड़ेंगे।

केजरीवाल ने कहा कि हम न्याय चाहते हैं। इस बारे में तुरंत एक अध्यादेश लाया जाए या जल्द से जल्द संसद का विशेष सत्र बुलाया जाए। उन्होंने कहा कि बलात्कारियों को कठोर दंड का कानून दो माह के अंदर लागू किया जाए। देश भर की विभिन्न अदालतों में बलात्कार के एक लाख 26 हजार से ज्यादा मामले लंबित हैं। इनके लिए फास्ट ट्रैक अदालतें गठित की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यह देश जनता का है यह बात नेताओं को अच्छी तरह से समझ लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने ऐसे मामलों से कठोरता से निपटने का जज्बा दिखाया होता तो यह स्थिति नहीं आती। ऐसा लगता है कि सरकार ने अपनी ही जनता के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया है।

 

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingMCA ने शाहरुख के वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश करने से बैन हटाया
मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने अभिनेता शाहरुख खान पर वानखेड़े स्टेडियम में घुसने पर लगा प्रतिबंध हटा लिया है। एमसीए के उपाध्यक्ष आशीष शेलार के मुताबिक एमसीए ने यह फैसला रविवार को हुई मैनेजिंग कमेटी की बैठक में लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?