रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 07:23 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
दो महीने के अंदर बने कठोर कानूनः केजरीवाल
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:23-12-12 03:55 PMLast Updated:23-12-12 05:17 PM
Image Loading

आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल इंडिया गेट पर गैंगरेप की घटना के खिलाफ जुटे प्रदर्शनकारियों के बीच रविवार को पहुंचे और मांग की कि रेप के मामले में दोषियों को कड़े दंड के लिए दो महीने के अंदर कठोर कानून बनाया जाए।

नई दिल्ली के इलाके में आज सुबह लगाई गई धारा 144 को अभूतपूर्व स्थिति बताते हुए अपने सहयोगी मनीष सिसौदिया, कुमार विश्वास और गोपाल के साथ इंडिया गेट पहुंचे। इससे पहले उन्होंने ट्विटर पर अपने संदेश में कहा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए धारा 144 का हर हाल में उल्लंघन करना होगा। वह अपने मित्रों के साथ इसको तोड़ेंगे।

केजरीवाल ने कहा कि हम न्याय चाहते हैं। इस बारे में तुरंत एक अध्यादेश लाया जाए या जल्द से जल्द संसद का विशेष सत्र बुलाया जाए। उन्होंने कहा कि बलात्कारियों को कठोर दंड का कानून दो माह के अंदर लागू किया जाए। देश भर की विभिन्न अदालतों में बलात्कार के एक लाख 26 हजार से ज्यादा मामले लंबित हैं। इनके लिए फास्ट ट्रैक अदालतें गठित की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यह देश जनता का है यह बात नेताओं को अच्छी तरह से समझ लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने ऐसे मामलों से कठोरता से निपटने का जज्बा दिखाया होता तो यह स्थिति नहीं आती। ऐसा लगता है कि सरकार ने अपनी ही जनता के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया है।

 

 
 
 
 
टिप्पणियाँ