मंगलवार, 02 सितम्बर, 2014 | 19:38 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
 
Image Loading अन्य फोटो
संबंधित ख़बरे
इंडियागेट पर पूरी तरह घेराबंदी, दो एसीपी निलंबित
नई दिल्ली, एजेंसी
First Published:24-12-12 10:32 PM
Last Updated:25-12-12 10:15 AM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

पुलिस ने सोमवार को इंडियागेट को पूरी तरह से अपने घेरे में रखा और इस इलाके की तरफ आने वाले सारे रास्ते बंद कर दिए। दिल्ली में छात्रा के साथ गैंगरेप के विरोध में राजपथ पर उमड़े प्रदर्शनकारियों के रविवार को हिंसक होने के कारण यह कदम उठाए गए।

इस बीच प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शांति बनाए रखने की अपील की और उधर गैंगरेप की शिकार लड़की की हालत में गिरावट आई। प्रदर्शन का सिलसिला इंडियागेट से जंतर-मंतर स्थानांतरित होने के बाद प्रदर्शनकारियों के तेवर में कहीं कोई कमी नहीं आई।

इसे देखते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पूरे देश में प्रसारित किए गए संदेश में कहा कि इस अपराध पर गुस्सा आना लाजिमी है, लेकिन हिंसा से कोई मकसद हल नहीं होगा। सिंह ने कहा कि सरकार यह देखेगी कि इस खौफनाक अपराध को अंजाम देने वालों को सजा देने में देरी न हो और साथ ही महिलाओं के लिए सुरक्षा से जुड़े तमाम पहलुओं पर भी नजर रहे।

इससे पूर्व दिल्ली के उप राज्यपाल तेजिन्दर खन्ना ने कुछ वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया। खन्ना अमेरिका की अपनी यात्रा बीच में ही छोड़कर राजधानी वापस लौट आए और संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमने दो सहायक पुलिस आयुक्तों मोहन सिंह डबास (ट्रैफिक) और यागराम (पीसीआर) को निलंबित कर दिया है।

उन्होंने कहा कि मैंने पुलिस आयुक्त से कहा है कि वह पुलिस उपायुक्त प्रेमनाथ (ट्रैफिक) और सतबीर कटारिया (पीसीआर) से स्पष्टीकरण मांगे, जिसके बाद आगे की कार्रवाई का फैसला किया जाएगा।

राजधानी में 16 दिसंबर को पैरा मेडिकल छात्रा के साथ चलती बस में गैंगरेप की घटना को लेकर लोगों का गुस्सा अपने चरम पर है। पुलिस का कहना है कि एक सप्ताह के भीतर इस मामले में आरोप पत्र दाखिल कर दिया जाएगा।

उधर, गैंगरेप की शिकार लड़की की हालत सोमवार को बिगड़ गई। आतंरिक रक्तस्राव होने के बाद सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टरों ने उसकी हालत को बहुत गंभीर और नाजुक बताया। डॉक्टरों का कहना है कि जहनी तौर पर लड़की एकदम ठीक है।

दिल्ली पुलिस ने कल जंतर-मंतर पर हुए प्रदर्शन के सिलसिले में दर्ज एफआईआर में पूर्व सेना प्रमुख वीके सिंह और योग गुरु बाबा रामदेव का नाम शामिल किया है। एफआईआर में कहा गया है कि प्रदर्शन के दौरान इनके समर्थकों और पुलिस के बीच संघर्ष हुआ।

सुरक्षा बलों ने सोमवार को इंडिया गेट और रायसीना हिल को जोड़ने वाले राजपथ को बेरिकेड्स से पूरी तरह बंद कर दिया और दिल्ली मेट्रो के नौ स्टेशनों को बंद करने के साथ ही राजपथ पर किसी भी तरह के यातायात पर प्रतिबंध लगा दिया। इस मार्ग पर दंगा रोधी पोशाक में भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे।

पुलिस ने इंडियागेट के आसपास वाहनों के आवागमन को प्रतिबंधित किया तो सड़कों पर जैसे अफरातफरी मच गई और आईटीओ के नजदीक, मथुरा रोड और अति विशिष्ट क्षेत्र में जाने वाली सड़कों सहित पूरे मध्य दिल्ली इलाके में बुरी तरह ट्रैफिक जाम हो गया।

जंतर-मंतर पर आज बहुत से प्रदर्शनकारी जमा हुए और छात्रा के साथ गैंगरेप की घृणित घटना में शामिल अपराधियों को जल्द सजा देने की मांग की। पुलिस ने आज किसी को भी इंडिया गेट या रायसीना हिल के इलाके में नहीं जाने दिया, जहां कल सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच टकराव में दोनो तरफ के करीब 150 लोग जख्मी हो गए थे।

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
टिप्पणियाँ
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°