बुधवार, 05 अगस्त, 2015 | 01:26 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    परिवार मोह में फंसकर लालू बन गए हैं नेता से नीतीश का पिछलग्गुः रामकृपाल  होंडा ने 7.30 लाख में पेश की सीबीआर-650  आतंकियों तक जाने वाले कालेधन के रूट पर कसेगी लगाम  बेनकाब हुआ पाक का नापाक चेहरा, पाकिस्तान में रची गई थी मुंबई अटैक की साजिश सीबीआई ने यादव सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार के दो मामले दर्ज किए  आरबीआई की नीतिगत दर में बदलाव नहीं, फिलहाल नहीं घटेगी ईएमआई  खुशखबरी...और सस्ता होने वाला है पेट्रोल और डीजल बॉस हो तो ऐसा, हर एक कर्मचारी को बोनस में दिए 1.6 करोड़ रुपये  पाकिस्तानी पत्रकार चांद नवाब का नया वीडियो वायरल, क्या आपने देखा  हॉकी: पहले टेस्ट मैच में भारत ने फ्रांस को 2-0 से हराया
दिल्ली में यमुना में पानी नहीं गंदगी है: सुप्रीम कोर्ट
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:04-12-2012 08:40:01 PMLast Updated:04-12-2012 10:09:26 PM
Image Loading

हजारों करोड़ रुपये खर्च करने के बावजूद यमुना सफाई परियोजना की विफलता पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इस नदी में गंदे पानी के प्रवाह को रोकने के इरादे से आज समूचे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के पानी की निकासी का मार्ग परिवर्तित करने की संभावना तलाशने पर जोर दिया।

न्यायमूर्ति स्वतंत्र कुमार और न्यायमूर्ति मदन बी लोकूर की खंडपीठ ने इस नदी की स्थिति पर टिप्पणी करते हुए कहा कि दिल्ली में इसमें पानी नहीं बल्कि गंदगी बहती है। न्यायाधीशों ने हजारों करोड़ रुपये खर्च करने के बावजूद इस नदी की सफाई करने में विफल रहने के लिए सरकार को भी आड़े हाथ लिया।

न्यायाधीशों ने सवाल किया कि क्या हम पानी की निकासी को दिल्ली से 30-40 किलोमीटर दूर ले जा सकते हैं ताकि इसमें से ठोस अपशिष्ट अलग किया जा सके। इसे ऐसी बंद जगह पर ले जाना चाहिए जहां सरकार के पास इस परियोजना के लिए पर्याप्त भूमि हो। न्यायालय ने इस परियोजना में सहायता के लिए दिल्ली और रूड़की आईआईटी के निदेशकों को बुलाया है।

न्यायालय ने कहा कि यमुना नदी की सफाई पर 12 हजार करोड़ रुपये से अधिक रकम खर्च हो चुकी है लेकिन विभिन्न सरकारी विभागों में तालमेल और सहयोग की कमी के कारण इसमें कोई सफलता नहीं मिल सकी है। न्यायालय ने कहा कि यह दुखद है कि इतनी राशि खर्च करने के बावजूद यमुना नदी साफ नहीं हो सकी। इस दौरान, केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और दिल्ली जल बोर्ड के वकील इस स्थिति के लिए परस्पर दोषारोपण करते रहे।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingतेंदुलकर ने मलिंगा की तारीफों के पुल बांधे
तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की तारीफ करते हुए महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने आज कहा कि श्रीलंका का यह क्रिकेटर विश्व स्तरीय गेंदबाज है और उनके साथ इंडियन प्रीमियर लीग में खेलना शानदार अनुभव रहा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।