रविवार, 26 अप्रैल, 2015 | 11:51 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
विश्वकप में टीम की हार के बारे में गलत बातें कहीं गईं, हम पराजय के साथ भी सीखेंगे :मोदीसानिया और सायना ने देश का नाम रोशन किया :मोदीअफसोस है कि बेटियों तक शिक्षा पहुंची नहीं :मोदीभारत दुनिया के सुख के बारे में सोचता है और करता है : मोदीविदेश में यमन ऑपरेशन के लिए बधाई मिली, यमन से 48 देशों के नागरिकों को निकाला : मोदीभूकंप ने पूरी दुनिया को हिलाया, मन की बात करने का मन नहीं हो रहा है :मोदीनेपाल का दुख भारत का दुख : मोदीकोशिश रहेगी कि लोगों को जिंदा बचाएं, राहत का काम लंबे वक्त तक चलेगा : मोदीभारत सहायता के लिए नेपाल के साथ, हर नोपाली के आंसू पोछेंगे : मोदीमैंने कच्छ का भूकंप नजदीक से देखा : मोदीमोदी : प्राकृतिक आपदा का सिलसिला चल पड़ाप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में कहा कि मैं कल्पना कर सकता हूं कि नेपाल में लोगों पर क्या बीत रही होगी।भारत के विभिन्न हिस्सों में भूकंप से जान गंवाने वाले लोगों के परिवार वालों को सरकार ने दो लाख रूपये की अनुग्रह राशि देने का ऐलान किया
बहुराष्ट्रीय कंपनियों के साथ है संप्रग सरकार: डी राजा
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:07-12-12 03:22 PM
Image Loading

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के नेता डी राजा ने शुक्रवार को कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार ने अपने आर्थिक एजेंडे को आगे बढ़ाने के लिए बहुब्रांड खुदरा में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को रोजगार सृजन के साथ ही किसानों और उपभोक्ताओं के लिए अच्छा होने का मिथ खड़ा किया है।

खुदरा में एफडीआई को अनुमति देने के मुद्दे पर राज्यसभा में बहस में हिस्सा लेते हुए राजा ने कहा कि संप्रग सरकार ने बेशर्मी के साथ खुद को बहुराष्ट्रीय कंपनियों के साथ खड़ा कर लिया है और फिर भी वह दावा करती है कि वह आम आदमी के साथ है।

राजा ने कहा कि उनकी पार्टी सरकार की नव उदारवादी आर्थिक नीतियों के खिलाफ है। राजा ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि रुपये पेड़ों पर नहीं लगते.. लिहाजा उनकी सरकार एफडीआई के लिए बेताब हो उठी है।

राजा ने कहा कि सरकार ने खुदरा में एफडीआई को बढ़ावा देने के लिए जानबूझकर तीन मिथ खड़े किए हैं। सरकार ने मिथ खड़े किए हैं कि यह रोजगार को बढ़ावा देगा, किसानों और उपभोक्ताओं के लिए लाभकारी होगा। राजा ने उपभोक्ताओं के मुद्दे पर कहा कि तमाम लोग 20 रुपये प्रतिदिन से कम कमा रहे हैं.. वे किन उपभोक्ताओं की बात कर रहे हैं? राजा ने कहा कि सदन की भावना एफडीआई के खिलाफ है।

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingआईपीएल : मुंबई इंडियंस, सनराइजर्स का मुकाबला आज
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के 23वें मुकाबले में शनिवार को वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद की टीमें आमने-सामने होंगी।