रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 11:30 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    आज मोदी की चाय पार्टी में शामिल हो सकते हैं शिवसेना सांसद शिक्षिका ने की थी गोलीबारी रोकने की कोशिश नांदेड-मनमाड पैसेजर ट्रेन के डिब्बे में आग,यात्री सुरक्षित दिल्ली के त्रिलोकपुरी में हिंसा के बाद बाजार बंद, लगाया गया कर्फ्यू मनोहर लाल खट्टर आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, मोदी होंगे शामिल राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी
मानहानि मामले में दिग्विजय सिंह को जमानत
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:21-12-12 11:38 AMLast Updated:21-12-12 11:49 AM
Image Loading

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह को भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी द्वारा दाखिल आपराधिक मानहानि के मामले में दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार को जमानत दे दी है।

अदालत द्वारा 17 नवंबर को जारी किए गए समन की तामील करते हुए सिंह मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट सुदेश कुमार की अदालत में पेश हुए और अदालत ने उन्हें 50 हजार रुपये के निजी मुचलके तथा इतनी ही राशि की जमानत राशि पर जमानत प्रदान कर दी।

अदालत के बाहर सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि अब वह गडकरी के खिलाफ अपने सभी आरोपों को साबित करेंगे। उन्होंने कहा कि अब मैं अदालत के सामने सब कुछ कह सकता हूं कि किस तरह गडकरी ने एक कारोबारी के रूप में काम किया और किस प्रकार उनके अन्य कारोबारियों के साथ संबंध हैं और उनकी सभी कंपनियां फर्जी हैं तथा उन्होंने कैसे लाभ कमाया।

अदालत ने सिंह के खिलाफ प्रथम दृष्टया सबूत पाने के बाद उन्हें सुनवाई का सामना करने के लिए अदालत में पेश होने को कहा था। गडकरी ने कांग्रेस महासचिव के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराया था। सिंह ने गडकरी पर आरोप लगाया था कि उनके अपनी पार्टी के सांसद अजय संचेती के साथ कारोबारी संबंध हैं।

शिकायत में यह भी कहा गया था कि सिंह ने गडकरी पर आरोप लगाया है कि उन्होंने संचेती को कोयला ब्लॉक आवंटन के जरिए 490 करोड़ रुपये कमवाए। अदालत में दर्ज कराए गए अपने बयान में गडकरी ने संचेती के साथ किसी भी प्रकार के कारोबारी संबंधों से इनकार किया था और कहा था कि सिंह ने उनके खिलाफ पूरी तरह झूठे और मानहानिकारक आरोप लगाए हैं।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ