शुक्रवार, 06 मार्च, 2015 | 07:55 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
दुष्कर्मी को सजा देने के लिए नागालैंड में लोगों ने कानून खुद अपने हाथ में ले लिया। बलात्कार की घटना से बौखलाई भीड़ ने दीमापुर सेंट्रल जेल से दुष्कर्मी को जबरिया बाहर निकाल पीट-पीट कर मार डाला।लाइवहिन्दुस्तान डॉट कॉम के सभी सुधी पाठकों को होली की हार्दिक शुभकामनाएं।
SC ने कारगिल युद्ध शहीद याचिका पर मांगा जवाब
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:14-12-12 04:16 PMLast Updated:14-12-12 07:21 PM
Image Loading

सुप्रीम कोर्ट ने कारगिल शहीद कैप्टन सौरभ कालिया के पिता की उस याचिका पर शुक्रवार को केंद्र से जवाब मांगा जिसमें उन्होंने सरकार को यह निर्देश देने की मांग की है कि वह उनके पुत्र को पाकिस्तान सेना द्वारा दी गई यातनाओं के मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में उठाएं।

न्यायमूर्ति आरएम लोढम के नेतृत्व वाली एक पीठ ने कैप्टन कालिया के पिता एनके कालिया की याचिका पर केंद्र सरकार को नोटिस जारी करते हुए उसे 10 सप्ताह में जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।

पीठ ने कालिया की व्यथा से सहानुभूति दिखाते हुए कहा कि वह इस तरह का आदेश देने से पहले इस बात की समीक्षा करेगी कि क्या वह सरकार को इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में उठाने के निर्देश दे सकती है। पीठ ने हालांकि कहा कि केंद्र इस मुद्दे को स्वयं किसी भी अंतरराष्ट्रीय मंच के समक्ष उठाने को मुक्त है।

पीठ ने कहा कि हम आपकी व्यथा में पूर्ण रूप से शामिल हैं, लेकिन न्यायालय की क्या भूमिका है क्या हम भारत सरकार को इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में उठाने का निर्देश दे सकते हैं।

पीठ ने कहा कि यह शीर्षतम अदालत है और हमारा आदेश संविधान की सीमाओं के तहत होना चाहिए। यह एक महत्वपूर्ण मुद्दा है। यदि सरकार चाहे तो वह इस मुद्दे को अंतररष्ट्रीय न्यायालय में उठा सकती है और इसमें हमारे हस्तक्षेप की कोई आवश्यकता नहीं है।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड