शनिवार, 01 अगस्त, 2015 | 13:18 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    चक्रवाती तूफान 'कोमेन' से तेज हुई बारिश, देश के कई हिस्सों में बाढ़ मुंबई के बांद्रा इलाके में लगाए गए किसिंग वाले पोस्टर, लोग नाराज सपा नेता मोहम्मद फारूक ने याकूब की पत्नी के लिए मांगी राज्यसभा सीट, पार्टी ने पद से हटाया पापा बनने वाले हैं जकरबर्ग, बेबी ने अंगूठा दिखाकर फेसबुक को किया LIKE लीबिया में दो भारतीयों की रिहाई पर बोले तिवारी, क्या IS के साथ बिजनेस कर रहा है भारत EXCLUSIVE: देश में सबसे ज्यादा लापता हो रहे हैं यूपी के बच्चे 'हिंदू आतंकवाद' शब्द ने आतंक के खिलाफ जंग कमजोर की: राजनाथ चूहे के कारण बीच रास्ते से लौटा 200 यात्रियों वाला एयर इंडिया का मिलान जा रहा विमान भारत-बांग्लादेश सीमा से LIVE: कहीं बेहतर जिंदगी की आस, कहीं घर-बार छूटने का गम बिना सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर 23 रुपये 50 पैसे हुआ सस्ता, पेट्रोल और डीजल के दाम भी घटे
दस्तावेज लीक मामले में सीबीआई ने रिटायर्ड विंग कमांडर को किया गिरफ्तार
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:30-11-2012 12:25:29 PMLast Updated:30-11-2012 12:55:39 PM
Image Loading

सीबीआई ने वायुसेना के एक सेवानिवृत्त विंग कमांडर को गोपनीय दस्तावेज लीक मामले में उसकी कथित भूमिका के लिए गिरफ्तार किया है। इन दस्तावेजों को बाद में हथियार डीलर अभिषेक वर्मा के पूर्व सहयोगी ने एजेंसी को मुहैया करा दिया था।
     
सीबीआई सूत्रों ने बताया कि वायुसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी को वायुसेना से संबंधित दस्तावेज लीक करने के लिए कल देर रात गिरफ्तार कर लिया गया।

एजेंसी सूत्रों ने बताया कि सेवानिवृत्त अधिकारी से वर्मा और उसके सहयोगियों के साथ उसके संबंधों के सिलसिले में पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि उसकी भूमिका की जानकारी काल विवरणों के विश्लेषणों और वर्मा की ओर से दिये गए बयानों से सामने आयी।  
     
इस बीच सीबीआई गोपनीय दस्तावेजों के कथित लीक मामले में अपना आरोपपत्र यहां स्थित विशेष सीबीआई अदालत में दायर करेगी। सूत्रों ने कहा कि सीबीआई आरोपपत्र में इस मामले में उसकी भूमिका की विस्तृत जानकारी दे सकती है।

सूत्रों ने कहा कि जांच एजेंसी को आरोपपत्र दायर करने के लिए गृह मंत्रालय की ओर से हरी झंडी मिल गई है और वह इस मामले में आरोपपत्र एक विशेष सीबीआई अदालत में आज दायर कर सकती है।
   
सीबीआई ने रक्षा मंत्रालय की ओर से एक औपचारिक शिकायत प्राप्त होने के बाद वर्मा और अज्ञात सरकारी अधिकारियों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया था। शिकायत में कहा गया था कि अमेरिका के एटॉर्नी एवं वर्मा के पूर्व व्यापारिक सहयोगी सी एड़ांड एलेन की ओर से कथित रूप से मुहैया कराये गए दस्तावेज गोपनीय थे और इससे सरकारी गोपनीयता कानून का उल्लंघन हुआ।
   
सीबीआई ने वर्मा और रक्षा मंत्रालय के अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ सरकारी गोपनीयता कानून की धारा तीन एवं 120 बी के तहत मामला दर्ज करने का फैसला किया। एलेन ने कथित रूप से वे दस्तावेज सीबीआई को मुहैया कराये जो कि रक्षा बलों की खरीद एवं भविष्य की योजनाओं से संबंधित थे।
   
सूत्रों ने दावा किया कि एलेन ने आरोप लगाया था कि ये दस्तावेज उसे वर्मा ने रक्षा हलकों में अपना प्रभाव दिखाने के लिए मुहैया कराये थे।
   
इन दस्तावेजों में भारतीय वायुसेना की अगले पांच वर्ष की खरीद योजना शामिल है तथा इनमें से कुछ वायुसेना की ओर से विकसित आधारभूत ढांचे के अलावा मानव रहित विमानों और उनसे जुड़ी प्रणाली की खरीद से संबंधित है।  

 
 
 
अन्य खबरें
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingएशेज : तीसरे दिन ही ऑस्ट्रेलिया को हराकर इंग्लैंड ने 2-1 की बढ़त बनाई
इयान बेल के शानदार अर्धशतक की बदौलत इंग्लैंड ने शुक्रवार को तीसरे एशेज टेस्ट के तीसरे ही दिन चाय से पहले ऑस्ट्रेलिया को आठ विकेट से हराकर पांच मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड