शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 09:53 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
यूपी: अमरोहा के चौधरपुर गांव में युवक की गला घोंट कर हत्या, सुबह घर के बाहर मिला शव, पुलिस पूछताछ में जुटीदुमका के कुछ वोटरों से हिन्दुस्तान ने बातचीत कर जानना चाहा कि उनकी वोटिंग का आधार क्या है? 35 साल के सत्येंद्र सिंह का कहना है स्थायी सरकार मुद्दा है, तो 42 साल के जवाहर लाल का कहना है कि शिक्षा के क्षेत्र में विकास है मुद्दा, वहींझारखंड: सुबह 9 बजे तक जामताड़ा-13, नाला-11, बोरियो-20, राजमहल-18, बरहेट-11, पाकुड़-16, लिट़टीपाड़ा-16, महेशपुर-18,दुमका-11, जामा-14, जरमुंडी-12, शिकारीपाड़ा-14, सारठ-14, पोड़ैयाहाट-11, गोड़डा-12, महगामा-10 प्रतिशत मतदान हुआझारखंड: पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा विस क्षेत्र में बूथ-134 में बुनियादी सुविधाओं की मांग को लेकर हुआ बहिष्कार, 9 बजे फिर शुरू हुआ मतदानझारखंड : बोरियो के बूथ नं 208 में एक घंटे में 124 वोट पड़ेझारखंड : जामताड़ा में सुबह से महिला मतदाताओं में गज़ब का उत्साहजम्मू कश्मीर में 20 सीटों के लिए मतदान शुरूझारखंड: दुमका के बूथ नम्बर 114 में सुबह से मतदाताओं में उत्साह नजर आ रहा हैझारखंड: सारठ के पालाजोरी ब्लॉक में बूथ नंबर 172 पर इवीएम खराब, 15 मिनट देर से शुरू हुआ मतदानझारखंड: दुमका के 114 नंबर बूथ पर सुबह से लगी महिला वोटरों की लंबी कतारझारखंड: जामताड़ा के बूथ नंबर 203 पर सुबह 7 बजे से ही वोटरों की लंबी कतार लगीझारखंड : दुमका के बूथ नम्बर 207 में पहला वोट पड़ा
रामदेव के निशाने पर मनमोहन और सोनिया
हरिद्वार, एजेंसी First Published:24-12-12 09:21 PMLast Updated:24-12-12 11:49 PM
Image Loading

बाबा रामदेव ने दिल्ली गैंगरेप मामले पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि ये देश इन दोनों के इस मुद्दे पर मौन टूटने का इन्तजार कर रहा है।

दिव्य योग मंदिर में संवाददाता सम्मेलन में रामदेव ने आरोप लगाया कि विपक्ष अपना पक्ष स्पष्ट कर चुका है, लेकिन सत्ता पक्ष की चुप्पी सोचने पर मजबूर करती है कि देश के 260 विधायकों और सांसदों पर रेप के मामले दर्ज हैं। कहीं उन्हें बचाने का प्रयास तो सरकार की चुप्पी में नहीं छुपा है।

रामदेव ने दावा किया कि आजादी के बाद से अब तक किसी बड़े आदमी के परिवार में इस तरह की घटना नहीं हुई है और यदि होती तो शायद तुरंत कानून बन जाता। उन्होंने अपने ऊपर लग रहे आरोपों का स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि मैं दिल्ली में आन्दोलन हाईजैक करने नहीं गया था, क्योंकि छात्रों के साथ कोई राजनैतिक पार्टी नहीं थी, तो मैं अपने साथ 100 बसें और सैकड़ों अन्य वाहन से आन्दोलनकारियों को समर्थन देने गया था।

रामदेव ने आन्दोलनकारियों से पुलिस के व्यवहार की निंदा की तथा बलात्कारियों के लिये फांसी की सजा की मांग और फास्ट ट्रैक अदालत में सुनवाई की मांग की। उन्होंने फिल्मों और टीवी सीरियल पर प्रतिबंध लगाने की भी मांग की, जिसमें बलात्कार की घटना को सस्ते मनोरंजन के लिए परोसा जाता है।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड