शनिवार, 30 मई, 2015 | 13:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    पाक-जिम्बाब्वे मैच के दौरान स्टेडियम के बाहर हुआ ब्लास्ट, 4 घायल अरुणा शानबाग का दोषी सोहनलाल बोला, परिवार के लोग तक बात नहीं करते पतंजलि फूड फैक्टरी से मिले हथियार, जांच में जुटी एसटीएफ पांचवीं बार फीफा के अध्यक्ष बने सेप ब्लेटर अमेरिकी संस्था का दावा: भारत-पाक में पड़ सकता है बड़ा अकाल पाकिस्तान: लाहौर में पाक-जिम्बाब्वे मैच के दौरान स्टेडियम के बाहर आत्मघाती हमला, दो की मौत जब अमेरिका में रंगभेद का सामना करना पड़ा था प्रियंका चोपड़ा को! 'वेलकम टू कराची' देखने से पहले रिव्यू तो पढ़ लीजिए FIL M REVIEW: सैन एंड्रियाज डर के साथ एंटरटेनमेंट  केजरीवाल को SC और HC का डबल झटका, LG ही करेंगे नियुक्ति
सबसे खुशनुमा नहीं होता शादी का पहला साल
मेलबर्न, एजेंसी First Published:03-12-12 02:09 PM
Image Loading

हनीमून पीरियड को खुशहाल वैवाहिक जीवन की शुरुआत का प्रतीक मानने वाले लोगों के लिए एक बुरी खबर है कि नव विवाहित दंपत्ति अपने विवाह के पहले साल सबसे ज्यादा नाखुश रहते हैं। एक नए अध्ययन में यह बात कही गई है।
   
ऑस्ट्रेलिया के शोधकर्ताओं के अनुसार सबसे खुशहाल दंपति वह होते हैं जिनकी शादी को 40 साल से ज्यादा समय पूरा हो गया हो। ऑस्ट्रेलिया के देकिन विश्वविद्यालय के इस अध्ययन में 2000 लोगों से विवाह को लेकर उनकी खुशी के बारे में पूछा गया। उनके जवाबों के आधार पर उन्हें 0-100 के बीच अंक दिए गए।
   
ज्यादातर लोगों को इसमें औसतन 75 अंक मिले और जिनकी नयी-नयी शादी हुई थी या जिनका शादी का यह पहला साल था उन्हें औसतन 73.9 अंक मिले जबकि वैसे दंपति जिनकी शादी को चार दशक से ज्यादा समय हो गया था, उन्हें औसतन 79.8 अंक मिले।
   
मुख्य अध्ययनकर्ता मेलिसा विनबर्ग ने कहा, यह थोड़ा अप्रत्याशित है क्योंकि आम धारणा यह है कि नवविवाहित जोड़े सबसे अधिक खुश रहते हैं जबकि असल में ऐसा नहीं है।
   
विनबर्ग ने कहा कि लोग कल्पना करते हैं कि उनकी शादी का दिन उनकी जिंदगी का सबसे खुशनुमा दिल होगा। वह दिन आता है, लोग बहुत खुश रहते हैं, लेकिन धीरे-धीरे यह खुशी कम होने लगती है।
   
एक अन्य अध्ययन में भी इस तथ्य का समर्थन किया गया है और कहा गया कि शादी के दूसरे या तीसरे साल दंपति की खुशी बढ़ने लगती है।
   
शोधकर्ताओं ने बताया कि विवाहित लोग अवविवाहित, तलाकशुदा आदि लोगों से अधिक खुश रहते हैं। वहीं विवाहित महिलाएं विवाहित पुरुषों की तुलना में अधिक खुश रहती हैं।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingअंतिम 11 में जगह मिलने की नहीं थी उम्मीद : सरफराज
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने वाले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के सबसे युवा बल्लेबाज सरफराज खान का कहना है कि उन्हें क्रिस गेल, ए.बी. डीविलियर्स और विराट कोहली जैसे विध्वंसक बल्लेबाजों के बीच अंतिम 11 में जगह मिलने का यकीन नहीं था और नम्बर छह की बेहद महत्वपूर्ण स्थान पर मौका दिये जाने से उनका आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड