शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 13:15 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मेरठ में बम धमाकापीएल शर्मा रोड की कई दुकाने खाकपूलिस की जांच जारी, बम निरोधक दस्ता पहुंचाएसएसपी ने किसी आतंकी साजिश से किया इनकारदेहरादून शहर के आदर्श नगर में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्यागर्भवती महिला समेत तीन लोगों की हत्याहत्याकांड के कारणों का अभी खुलासा नहींपुलिस ने पहली नजर में रंजिश का मामला बतायाकोच्चि एयरपोर्ट पर जांच जारीविमान पर आत्मघाती हमले का खतराएयर इंडिया की फ्लाइट पर फिदायीन हमसे का खतरामुंबई, अहमदाबाद, कोच्चि में हाई अलर्ट
एसएमएस मना रहा है 21वां जन्मदिन
लंदन, एजेंसी First Published:02-12-12 06:24 PM
Image Loading

पर्व-त्योहार हो जन्मदिन या कोई और अवसर, हम अक्सर अपने प्रियजन को संदेश भेजते हैं और मोबाइल फोन की वर्तमान दुनिया में उसका जरिया है एसएमएस। इस वर्ष एसएमएस अपना 21वां जन्मदिन मना रहा है, लेकिन वर्तमान दौर में एसएमएस करने का ट्रेंड घट रहा है।

एक नई रिपोर्ट के अनुसार दो दशक पहले जन्म लेकर लोगों के जीवन का अहम हिस्सा बनने वाले एसएमएस के जीवन में पहली बार ढलान आया है। पिछले दो दशक में इसने कई बहुराष्ट्रीय कंपनियों के व्यापार संबंधी सौदों का भविष्य तय करने से लेकर प्रेम, खुशी और दुखी आदि भावनाओं से युक्त लोगों के दिलों की बातें भी कहीं।

पहली बार तीन दिसंबर 1992 में एक कंप्यूटर से मोबाइल फोन पर संदेश भेजा गया जिसमें लिखा था मेरी क्रिसमस। वर्ष 1998 के बाद तो जैसे एसएमएस की दुनिया में बहार ही आ गई।

फिलहाल दुनिया में कुल चार अरब लोग एसएमएस सेवा का उपयोग करते हैं। लेकिन पहली बार ऐसा हुआ है जब एसएमएस की संख्याओं में काफी कमी आयी है।

मीडिया नियामक ऑफकॉम का कहना है कि पिछली दो तिमाही में एसएमएस की संख्याओं में करीब एक अरब की कमी आयी है।
 
 
 
टिप्पणियाँ