रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 09:47 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
यूपी के संभल में पुलिस हिरासत में लिए गए युवक की मौत। युवक का शव घर के पास एक खेत में मिला। गुस्साए परिजनों ने संभल-मुरादाबाद मार्ग पर लगाया जाम, हंगामा जारी। कई थानों की पुलिस को मौके पर।
फेसबुक पर जितने ज्यादा दोस्त, उतना ज्यादा तनाव
लंदन, एजेंसी First Published:27-11-2012 01:45:12 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

फेसबुक पर दोस्तों की बड़ी संख्या देखकर आप खुद को मशहूर तो महसूस कर सकते हैं, लेकिन इससे आपको काफी तनाव भी झेलना पड़ सकता है।
  
एक नई रिपोर्ट के अनुसार, आप जितने ज्यादा लोगों को अपनी फ्रेंड लिस्ट में शामिल करते हैं, उतना ही आप ज्यादा तनाव में रहते हैं कि कहीं कुछ आक्रामक न कर बैठें।
  
एडिनबर्ग बिजनेस स्कूल विश्वविद्यालय की रिपोर्ट में पाया गया है कि किसी के फेसबुक दोस्तों में लोगों के जितने ज्यादा समूह होते हैं, किसी का अपमान करने की संभावना उतनी ही ज्यादा बढ़ जाती है। विशेष तौर पर अपने नियोक्ताओं और माता-पिता को फ्रेंडलिस्ट में शामिल करने से भी चिंताएं काफी बढ़ जाती हैं।
  
यहां तनाव तब बढ़ता है जब एक यूजर फेसबुक पर खुद को कुछ इस तरह पेश करता है जो कि उसके ऑनलाइन दोस्तों को अस्वीकार्य हो। उदाहरण के तौर पर उसकी पोस्टस में गाली गलौज, लापरवाही, शराब या धूम्रपान की आदत की झलक ऑनलाइन दोस्तों को नापसंद हो सकती है।
  
रिपोर्ट में कहा गया है कि इस साइट से जुड़ने वाले बड़ी उम्र के लोगों के साथ यह समस्या ज्यादा बढ़ रही है क्योंकि उनकी उम्मीदें युवा यूजर्स के मुकाबले काफी अलग हो सकती हैं।
  
शोधकर्ताओं ने पाया कि फेसबुक इस्तेमाल करने वाले लोगों के औसतन सात अलग-अलग सामाजिक दायरों के दोस्त होते हैं। इनमें से सबसे ज्यादा यानि 97 प्रतिशत दोस्त वे होते हैं जिन्हें ये इंटरनेट से इतर भी जानते हैं। इसके बाद आपके दूर के रिश्तेदार (81 प्रतिशत), सगे भाई बहन(80 प्रतिशत), दोस्तों के दोस्त(69 प्रतिशत) और सहकर्मी (65 प्रतिशत) हैं।
  
इस रिपोर्ट में यह भी पाया गया कि अधिकतर लोग अपने वर्तमान साथी के बजाय पूर्व साथियों के साथ फेसबुक पर दोस्ती रखे हुए हैं। इस रिपोर्ट में फेसबुक पर 300 लोगों का सर्वेक्षण किया गया। इनमें से अधिकांश औसतन 21 वर्ष की उम्र के विद्यार्थी थे।
  
इस रिपोर्ट के लेखक बेन मार्डर ने एक बयान में कहा, फेसबुक एक ऐसी जगह है जहां आप अपने सभी दोस्तों के साथ नाच सकते हैं, पी सकते हैं और इश्क लड़ा सकते हैं। लेकिन अब क्योंकि आपकी मां, पिता और बॉस वहां है तो इस पार्टी के साथ चिंताएं जुड़ जाती हैं।

 
 
 
अन्य खबरें
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआक्रामक शैली बरकरार रखें कोहली: द्रविड़
राहुल द्रविड़ को बतौर टेस्ट कप्तान श्रीलंका में पहली पूर्ण सीरीज खेलने जा रहे विराट कोहली के कामयाब रहने का यकीन है और उन्होंने कहा कि कोहली को अपनी आक्रामक शैली नहीं छोड़नी चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?