सोमवार, 03 अगस्त, 2015 | 12:07 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लेगी कांग्रेस।उत्तर प्रदेश: दिल्ली से हरिद्वार जा रही पैसेंजर ट्रेन से गिरकर एक शिवभक्त कांवडिए की मौत, आजादपुर रोड निवासी दीपक अपने साथियों के साथ कांवड लेने के लिए हरिद्वार जा रहा था।जस्टिस काटजू के गांधी को ब्रिटिश एजेंट बताने पर संसद द्वारा की गई निंदा मानहानी नहीं: सुप्रीम कोर्टजिसने भ्रष्टाचार किया उसका इस्तीफा हो- राहुल गांधीसुषमा ने खुद पर लगे आरोपों को बताया झूठा, राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित
ये क्या...एक लाख स्कूलों में शौचालय नहीं
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-12-2012 03:06:59 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

केंद्र सरकार ने गुरुवार को लोकसभा को बताया कि देश में कुल 10,67,844 स्कूलों में से एक लाख से अधिक स्कूलों में शौचालयों की सुविधा उपलब्ध नहीं है और 61 हजार से अधिक स्कूलों में पेयजल सुविधा का अभाव है।

पेयजल एवं साफ सफाई राज्य मंत्री भरत सिंह सोलंकी ने सदन में एल राजा गोपाल, बैजयंत जय पांडा, संजय निरुपम तथा सौगत राय के सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि देश में कुल 10,67,844 स्कूल हैं, जिनमें से 1,28,781 स्कूलों में शौचालयों और 61,267 स्कूलों में पेयजल सुविधाओं का अभाव है, जो क्रमश: 12.6 फीसदी और 5.74 फीसदी है।

सोलंकी ने बताया कि राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम और निर्मल भारत अभियान के तहत वर्ष 2012-13 के अंत तक ग्रामीण सरकारी स्कूलों में सौ फीसदी शौचालय तथा पेयजल सुविधा उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है।

उन्होंने इस बात से सहमति जताई कि उच्चतम न्यायालय ने हाल ही में सभी स्कूलों में छह महीने के भीतर शौचालय और पेयजल सुविधाएं मुहैया कराने का निर्देश दिया है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingMCA ने शाहरुख के वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश करने से बैन हटाया
मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने अभिनेता शाहरुख खान पर वानखेड़े स्टेडियम में घुसने पर लगा प्रतिबंध हटा लिया है। एमसीए के उपाध्यक्ष आशीष शेलार के मुताबिक एमसीए ने यह फैसला रविवार को हुई मैनेजिंग कमेटी की बैठक में लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?