रविवार, 05 जुलाई, 2015 | 03:59 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    यूपीएससी में बेटियों ने बाजी मारी, दिल्ली की इरा ने टॉप किया, लड़कों में बिहार का सुहर्ष अव्वल इलाहाबाद जंक्शन पर पटरी से उतरी मालगाड़ी, परिचालन ठप मुजफ्फरनगर: सड़क हादसे में दो बच्चों की मौत के बाद जमकर हुआ बवाल झारखंड: पटरी से उतरी मालगाड़ी, दो मरे, चार ट्रेनें रद्द अनूप चावला की हालत बिगड़ी, एयर एंबुलेंस से भेजा मेदांता अनंत विक्रम सिंह गिरफ्तार, अमेठी में भारी पुलिसबल तैनात आतंकी भटकल ने जेल से किया पत्नी को फोन, बताई गुप्त योजना, मचा हडकंप माफिया डॉन दाउद इब्राहिम ने लंदन में रामजेठमलानी को किया था फोन, सरेंडर करने की बात कही थी हेमा मालिनी को मिली अस्पताल से छुटटी, बेटी ईशा के साथ पहुंचीं मुंबई अब विश्वविद्यालयों में कोर्स का दस फीसदी ऑनलाइन पढ़ सकेंगे छात्र
अब आकाश पर करें वैज्ञानिक प्रयोग
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:16-12-12 03:08 PM
Image Loading

अब छात्र सस्ते टैबलेट आकाश पर भी वैज्ञानिक प्रयोग कर सकेंगे और उन्हें इसके लिए प्रयोगशाला में जाने की जरूरत नहीं होगी।

सस्ता टैबलेट आकाश को मानव संसाधन विकास मंत्रालय के वर्चुअल लैब परियोजना से जोड़ दिया गया है जिससे छात्रों को न केवन विज्ञान एवं गणित के जटिल प्रयोगों को समझने में मदद मिलेगी बल्कि वे इसका अभ्यास भी कर सकेंगे।

सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी के माध्यम से राष्ट्रीय शिक्षा मिशन (एनएमआईसीटी) के सलाहकार प्रदीप शर्मा ने कहा कि वर्चुअल लैब को सस्ते आकाश से जोड़ा गया है जिस पर छात्र न सिर्फ प्रयोग कर सकते हैं बल्कि विज्ञान एवं गणित से जुड़ी विषयवस्तु भी समझ सकते हैं क्योंकि इस पर लेक्चर एवं वीडियो भी लोड किये गए हैं।

वर्चुअल लैब ऐसी व्यवस्था है जिसके माध्यम से छात्र इंटरनेट के उपयोग से कोई प्रयोग कर सकते हैं या किसी विषय को आभासी तरीके से समझ सकते हैं। मसलन अगर किसी छात्र को कोई सर्किट तैयार करना है तो वर्चुअल लैब में दिशा-निर्देशों के साथ ऐसे उपकरण एवं वस्तुएं रखी गई हैं जिसका उपयोग कर वे सर्किट तैयार कर सकते हैं। इस दौरान उन्हें शिक्षकों का मार्गदर्शन भी प्राप्त होगा।

उन्होंने कहा कि आकाश पर प्रोक्सिमिटी खंड में लेक्चर एवं वीडियो डाले गए हैं जहां छात्र ऑफलाइन शिक्षा भी प्राप्त कर सकते हैं। इस खंड में 141 पाठ्यक्रम डाले गए हैं जो उच्च शिक्षा के विविध आयामों से जुड़े हुए हैं।

अधिकारी ने बताया कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने जाने माने शिक्षाविदों के सहयोग से अपने शैक्षणिक पोर्टल साक्षात पर सीधे लैब टेस्ट करने की सुविधा प्रदान की है और इसी व्यवस्था को आकाश से जोड़ा गया है। इसके माध्यम से छात्रों को अपने प्रदर्शन का आकलन करने और अपने सवालों का जवाब ढूंढ़ने में भी मदद मिलेगी।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय देश के सुदूर क्षेत्रों में छात्रों को बेहतर उच्च शिक्षा प्रदान करना चाहती है। अधिकारी ने कहा कि इस योजना के तहत सभी कालेजों और विश्वविद्यालयों को  ब्रॉडबैंड इंटरनेट सुविधा से जोड़ा गया है। इस परियोजना के तहत सस्ते टैबलेट आकाश के माध्यम से उच्च शिक्षा को आगे बढ़ाने की योजना बनाई गई है।

मसलन गोरखपुर, हाजीपुर, हिसार या ऐसे ही किसी क्षेत्र पढ़ाई करने वाला कोई छात्र अंतरिक्ष विज्ञान पर कोई प्रयोग करना चाहता है तो आकाश के माध्यम से पोर्टल पर न केवल उसे इसरो द्वारा तैयार की गई ताजा जानकारी मिलेगी, बल्कि वह संबंधित प्रयोग भी कर सकेगा।

सस्ते टैबलेट आकाश पर इन प्रयोगों और पढ़ाई के लिए कोई शुल्क नहीं रखा गया है। सभी पाठ्यसामग्री नि:शुल्क खुले स्रोत के माध्यम से प्रदान की जा रही है।

 
 
 
अन्य खबरें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingमैकलम ने खेली 158 रन की रिकॉर्ड पारी
न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रैंडन मैकलम ने इंग्लिश ट्वेंटी 20 ब्लास्ट प्रतियोगिता में अपनी काउंटी टीम वॉरविकशायर के लिए मात्र 64 गेंदों में नाबाद 158 रन का ताबड़तोड़ स्कोर बनाने के साथ एक अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड