शुक्रवार, 29 अगस्त, 2014 | 21:32 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
भारत-पाक के बीच प्लैग मीटिंग खत्मबीएसएफ, डीआईजी, पाक रेंजर्स की बैठकसीजफायर कायम रखने पर सहमतिआगे भी फ्लैग मीटिंग करने पर सहमतिसाढ़े तीन घंटे चली प्लैग मीटिंगधनबाद के गोविंदपुर के पास 2000 मवेशी लदे सौ ट्रक पकडे़ गए
 
अंतरिक्ष में ऊर्जा के विशाल स्रोत...
मेलबर्न, एजेंसी
First Published:03-01-13 02:20 PM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

खगोलविदों के एक दल ने दावा किया है कि उन्होंने अंतरिक्ष में पृथ्वी से दिखाई देने वाले, ऊर्जा के विशाल स्रोतों को मापने में मदद की है और ये स्रोत 1,000 किमी प्रति सेकेंड की गति से आकाशगंगा के मध्य से निकल रहे हैं।

न्यूसाउथ वेल्स में एक दूरबीन से इस प्रक्रिया का अवलोकन कर रहे खगोलविदों के हवाले से एबीसी की खबर में कहा गया है कि कथित अंतरिक्ष गीजर नवनिर्मित तारों से अत्यंत वेग से निकल रहे हैं।

पहले माना जाता था कि ऊर्जा के इन स्रोतों का उद्भव आकाशगंगा के मध्य में स्थित ब्लैक होल से हो रहा है। इन कथित अंतरिक्ष गीजर्स की खोज न्यू साउथ वेल्स, अमेरिका, इटली और नीदरलैंड के खगोलविदों ने की। खोज के बारे में जानकारी नेचर पत्रिका के गुरुवार के अंक में प्रकाशित हुई है।

अनुसंधान दल के प्रमुख, सीएसआईआरओ के एत्तोरे कैरेटी ने कहा कि जो बहाव है उसमें मौजूद ऊर्जा तारे के विस्फोट से निकलने वाली ऊर्जा से लाख गुना ज्यादा है। यह हमारी ओर नहीं आ रहा है। गैलेक्टिक प्लेन से निकलने के बाद इसकी दिशा में कई बार बदलाव हो रहा है। हमें कोई खतरा नहीं है क्योंकि गैलेक्टिक सेंटर से हमारी पृथ्वी की दूरी 30,000 प्रकाश वर्ष है।

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
टिप्पणियाँ
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°