शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 18:19 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
विद्या प्रकाश ठाकुर ने भी राज्यमंत्री पद की शपथ लीदिलीप कांबले ने ली राज्यमंत्री पद की शपथविष्णु सावरा ने ली मंत्री पद की शपथपंकजा गोपीनाथ मुंडे ने ली मंत्री पद की शपथचंद्रकांत पाटिल ने ली मंत्री पद की शपथप्रकाश मंसूभाई मेहता ने ली मंत्री पद की शपथविनोद तावड़े ने मंत्री पद की शपथ लीसुधीर मुनघंटीवार ने मंत्री पद की शपथ लीएकनाथ खड़से ने मंत्री पद की शपथ लीदेवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
गैंगरेप पीड़िता के समर्थन में ऑस्ट्रेलिया में रैली निकालेंगे भारतीय
मेलबर्न, एजेंसी First Published:27-12-12 12:46 PM
Image Loading

दिल्ली में 23 साल की एक युवती के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना के विरोध स्वरुप ऑस्ट्रेलिया में रह रहे भारतीय समुदाय के लोग आज यहां एक शांतिपूर्ण रैली निकालेंगे और सिंगापुर के अस्पताल में इस समय इलाज करा रही युवती के स्वस्थ होने की कामना करेंगे।
   
शांति, कुशल-मंगल और सौहार्द की कामना करने के लिए अप्रवासी भारतीय शाम साढ़े छह बजे यहां स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास में जुटेंगे और वाणिज्य दूतावास के जरिए सरकार को एक ज्ञापन सौंपकर उससे भारत में बलात्कार और छेड़छाड़ जैसी घटनाओं को रोकने के लिए कार्रवाई करने की मांग करेंगे।
   
गत 16 दिसंबर को दिल्ली में एक चलती बस में इस पैरा मेडिकल छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया और उसे बर्बरता से मार पीटा गया। 
   
घटना के बाद से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में युवती का इलाज किया जा रहा था। यहां दस दिनों तक गंभीर हालत में वेंटिलेटर पर रही युवती को आज सुबह सिंगापुर ले जाया गया।
   
युवती की हालत अब भी गंभीर बतायी जा रही है। उसे सिंगापुर के माउंट ऐलिजाबेथ अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
   
मेलबर्न इंडियन्स सोलिडेरिटी ग्रुप ने कहा कि हम हाल में दिल्ली में हुए सामूहिक बलात्कार की घटना और पूरे भारत में महिलाओं के साथ होने वाले छेड़छाड़ और बलात्कार के बढ़ते मामलों को लेकर चिंतित हैं। हम मेडिकल छात्रा के साथ हुई सामूहिक बलात्कार की घटना और कहीं भी होने वाले बलात्कार एवं छेड़छाड़ जैसे जघन्य अपराध की घटनाओं की निंदा करते हैं।
   
ऑस्ट्रेलिया-इंडिया व्यापार परिषद-विक्टोरिया के अध्यक्ष रवि भाटिया ने कहा कि हम भारत सरकार और राज्य सरकारों से बलात्कार और महिलाओं के खिलाफ होने वाले दूसरे अपराधों को रोकने के लिए तत्काल कदम उठाने की मांग करते हैं।

 
 
 
टिप्पणियाँ