सोमवार, 03 अगस्त, 2015 | 20:40 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
देश के 187 बंदरगाहों में सुरक्षा की गंभीर खामी।आईआईटी रुड़कीः सीनेट की बैठक के बाद देर शाम को सचिव ने की घोषणा।आईआईटी रुड़की निकाले गए 72 छात्रों को वापस लेगी।
बिहार को विशेष राज्य के दर्जे की योग्यता नहीं: मोंटेक
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:26-12-2012 10:50:57 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को अपने राज्य को विशेष दर्जा दिये जाने की मांग को नये सिरे से उठाया, जबकि योजना आयोग ने उन्हें कोई राहत नहीं देते हुए कहा कि पूर्वी राज्य विशेष दर्जे के लिए मौजूदा योग्यताओं को पूरा नहीं करता।

राष्ट्रीय विकास परिषद की गुरुवार को होने वाली बैठक में भाग लेने के लिए राजधानी आये नीतीश ने आज वित्त मंत्री पी चिदंबरम से उनके निवास पर मुलाकात कर यह मांग उठायी। उम्मीद की जा रही है कि कल की बैठक में भी वह इसी मांग को उठायेंगे।

चिदंबरम के साथ मुलाकात में मुख्यमंत्री ने उस ज्ञापन की प्रति उन्हें सौंपी, जो पूर्व में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को दिया जा चुका था। यह मुलाकात ऐसे दिन हुई, जब योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलुवालिया ने कहा कि बिहार विशेष श्रेणी के राज्य का दर्जा पाने की मौजूदा योग्यताओं को पूरा नहीं करता।

अहलुवालिया ने यहां संवाददाताओं से कहा कि बिहार उस मौजूदा योग्यता को पूरा नहीं करता, जिसके अनुसार किसी राज्य को विशेष श्रेणी का प्रदेश होने के लिए योग्य माना जाता है। हम मानते हैं कि बिहार और कुछ भागों में विशेष समस्याएं हैं तथा बीजीआरएफ (पिछड़ा क्षेत्र अनुदान कोष) में शामिल होने के लिए हमारे पास बिहार पैकेज है।

योजना आयोग उपाध्यक्ष प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में होने वाली राष्ट्रीय विकास परिषद की बैठक की पूर्व संध्या पर उसके बारे में मीडिया को जानकारी दे रहे थे।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान
टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?