शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 14:12 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
जम्मू: बिशनाह चुनाव क्षेत्र में मतदान केन्द्र संख्या 27 में कुल 640 वोटर हैं और मतदान के पहले घंटे में 72 प्रतिशत मतदान हो चुका है।जम्मू: बानी में 15.22 प्रतिशत, हरीनगर 15.02 प्रतिशत, बिशनाह में 14 प्रतिशत, मारह 12 प्रतिशत, कठुआ में 11.71 प्रतिशत, बशोली में 11 प्रतिशत, बिल्लावर में 10.25 प्रतिशत और गांधीनगर एवं जम्मू पूर्व में 10 प्रतिशत मतदान हुआ है।जम्मू: जम्मू पश्चिम और नौशेरा में नौ-नौ प्रतिशत और डरहाल में 8.50 प्रतिशत एवं कालकोट में 7.15 प्रतिशत मतदान हुआ है।जम्मू: जम्मू जिले के गांधीनगर विधानसभा में केंद्रीय विद्यालय में तीन मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस केंद्र पर पहले आधे घंटे में लगभग 50 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।जम्मू: गांधीनगर इलाके एक पोलिंग स्टेशन पर निर्वाचन अधिकारियों ने मतदाताओं के लिए चाय की व्यवस्था भी की है।जम्मू: कठुआ जिले में सीमवर्ती निर्वाचन क्षेत्र हीरानगर में महिला मतदाताओं की संख्या, पुरुष मतदाताओं से अधिक रही। कठुआ जिले के दूर-दराज के बानी और बिलावर निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान प्रक्रिया की शुरुआत धीमी रही।जम्मू: राजौरी जिले की राजौरी, दारहल, कालकोट और नौशेरा में भी सुबह के समय मतदान प्रक्रिया सुस्त रही।झारखंड: दोपहर 1 बजे तक जामताड़ा-57, नाला-56, बोरियो-45, राजमहल-43, बरहेट-47, पाकुड़-61, लिट्टीपाड़ा-59, महेशपुर-58, दुमका-44, जामा-56, जरमुंडी-57, शिकारीपाड़ा-60, सारठ-59, पोड़ैयाहाट-56, गोड्डा-47, महगामा-48 प्रतिशत मतदान हुआ
'महिलाओं के बारे में त्याग दीजिये गलत धारणा'
इलाहाबाद, एजेंसी First Published:25-12-12 06:07 PM
Image Loading

दिल्ली में एक युवती के साथ सामूहिक बलात्कार की पृष्ठभूमि में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मंगलवार को कहा कि महिलाओं के खिलाफ आपराधिक हमले अक्सर उनके प्रति नकारात्मक धारणाओं के चलते होते हैं और उन्होंने इन धारणाओं को त्यागने का आह्वान किया।

राष्ट्रपति ने यहां मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के नौवें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार स्थिति के प्रति सतर्क है तथा यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कदम उठा रही है कि ऐसी दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं हो।

उन्होंने कहा कि मैं बहादुर लड़की के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। समाज के कुछ तत्वों द्वारा महिलाओं के खिलाफ पैदा की जा रही और फैलायी जा रही नकारात्मक धारणा की पृष्ठभूमि में महिलाओं के खिलाफ आपराधिक हमले हो रहे हैं। इसका अंत होना चाहिए।

घटना पर अपनी गहरी हताशा जताते हुए मुखर्जी ने कहा कि हमें समाज के प्रत्येक सदस्य के मन में महिलाओं के लिए बेहद सम्मान पैदा करना होगा और देश के युवाओं को इस क्षेत्र में पहल करनी होगी।

उन्होंने इस बात की ओर ध्यान दिलाया कि वह इस वीभत्स घटना को लेकर युवाओं की जायज गुस्सा की सराहना करते हैं। उन्होंने युवाओं को याद दिलाया कि तर्क को ताक पर नहीं रख दिया जाना चाहिए। उन्हें अपनी भावनाओं को नियंत्रण में रखना चाहिए तथा शांतिपूर्ण ढंग से स्थिति का सामना करना चाहिए।

 

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड