रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 11:22 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
भूमि बिल पर हर सुझाव को स्वीकार करने के लिए सरकार तैयार: प्रधानमंत्रीकिसानों के हित के किसी भी सुझाव को मैं स्वीकार करूंगा: मोदीइस्लाम के सही स्वरूप को लोगों तक पहुंचाना जरूरी: पीएमविकास से जुड़ी हर समस्या का समाधान होगा: प्रधानमंत्रीगुजरात की स्थिति संभालने में हम सफल रहे: मोदीबैंक मित्र की योजना को भी बल मिला और इससे नौजवानों को रोजगार मिला: पीएमसभी माताओं और बहनों का रक्षाबंधन की बहुत बहुत शुभकामनाएं: प्रधानमंत्री11 करोड़ लोग बीमा योजना से जुड़े, आधा लाभा माताओं और बहनों को मिला: मोदी
यूपीः रामपुर में काले कपड़े पर गरमाई सियासत
लखनऊ, एजेंसी First Published:10-12-2012 03:53:07 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यक्रम के दौरान लड़कियों के काले कपड़े पहनने से मना करने संबंधी बिजनौर जिला प्रशासन के आदेश पर विवाद खड़ा हो गया है।

मुख्यमंत्री सोमवार को रामपुर में कन्या विद्याधन तथा नई योजना 'हमारी बेटी उसका कल' के तहत लाभार्थी छात्राओं को चेक वितरित करने पहुंचे। इसमें बिजनौर की छात्राएं भी शामिल थीं। बिजनौर की छात्राओं को काले कपडे़ पहनने पर रोक लगाए जाने के आदेश से विशेषकर मुस्लिम समुदाय में काफी नाराजगी है।

छात्राओं का कहना है कि बुरके का रंग भी काला होता है तो उन्हें इस रंग के कपडे़ पहनने से कैसे रोका जा सकता है। बिजनौर की जिलाधिकारी सारिका मोहन ने हालांकि इस मसले पर कहा कि उनके अधीनस्थ अधिकारियों का यह केवल सुझाव था।

इस बीच भारतीय जनता पार्टी ने इस आदेश पर तीखी टिप्पणी करते हुए यह जानना चाहा कि प्रदेश की समाजवादी पार्टी सरकार विरोध से इतना डरती क्यों है। भापजा के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि जनतांत्रिक व्यवस्था में इस तरह का आदेश घोर निंदनीय है।

उन्होंने मुस्लिम लड़कियों को तीस हजार रुपए दिए जाने की योजना का नाम 'हमारी बेटी उसका कल' रखे जाने पर भी आपत्ति व्यक्त की। उन्होंने कहा कि इससे पता चलता है कि सरकार सिर्फ मुसलमान बेटियों को ही अपना मानती है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingLIVE:श्रीलंका को दूसरा झटका, सिल्वा आउट
श्रीलंका क्रिकेट टीम ने सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर भारत के साथ जारी तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को अपनी पहली पारी में दो विकेट गंवा दिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!