बुधवार, 29 जुलाई, 2015 | 12:23 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
याकूब मेमन के वकील ने पूरी की अपनी दलील, अब बाकी तीन पक्ष अपना पक्ष रखेंगे, आखिर में अटॉर्नी जनरल अपना पक्ष रखेंगे।सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया, राजीव गांधी के हत्यारों को फांसी नहीं होगी, तीनों हत्यारों को उम्रकैद मिलीछत्तीसगढ़ में आयकर विभाग की छापेमारी, 120 अधिकारियों की टीम मौके पर, पॉवर प्लांट कारोबारियों के यहां छापेमारी
युवती ने बताया, वह पिता के बच्चों की मां बनी
First Published:01-05-2012 11:23:19 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

 ग्रेटर नोएडा/वरिष्ठ संवाददाता

मानवता को शर्मसार करने वाले एक मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत ने पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। नोएडा के सेक्टर 39 में रहने वाली एक युवती ने न्यायालय को बताया कि उसके पिता ने उसके साथ कई महीने तक रेप किया। किसी तरह वह जान बचाकर भागी लेकिन, तब तक वह पिता से गर्भवती हो चुकी थी। करीब डेढ़ महीने पहले उसने एक बच्चों को जन्म दिया है।युवती के अधिवक्ता योगेश कुमार सोलंकी ने बताया कि वह अपने माता-पिता के साथ सेक्टर 39 में रहती थी। जुलाई 2011 में उसे पीलिया हो गया था। एक दिन वह घर में अकेली थी। उसकी मां कहीं गई हुई थी। युवती के पिता ने उससे रेप करने का प्रयास किया। विरोध किया तो डंडे से बुरी तरह पीटा और उसके बाद रेप किया। युवती ने अदालत को बताया कि फिर ऐसा अकसर होने लगा। उसकी मां भी जानबूझकर घर से बाहर चली जाती थी। 17 दिसंबर, 2011 को मौका पाकर युवती किसी तरह घर से भागने में कामयाब हो गई। लेकिन, तब तक वह गर्भवती हो चुकी थी। इसके बाद 17 मार्च, 2012 को युवती ने एक बच्चों को जन्म दिया है। युवती ने न्यायालय से निवेदन किया है कि वह अपने आरोप की पुष्टि के लिए बच्चों का डीएनए टेस्ट करवाने के लिए तैयार है। सीजेएम विपिन कुमार शर्मा ने इस प्रकरण में पुलिस को आदेश दिया है। सीजेएम ने कहा है कि मामला प्रथम दृष्टया संज्ञेय श्रेणी में आता है। पुलिस संगत धाराओं में एफआईआर दर्ज करके जांच करे।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingप्रतिबंध हटाने के लिए बीसीसीआई से संपर्क करूंगा: श्रीसंत
जब वह तिहाड़ जेल में था तो वह आत्महत्या के बारे में सोच रहा था लेकिन तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को अब उम्मीद बंध गई है कि वह वापसी कर सकते हैं और खुद पर लगे प्रतिबंध को हटाने के लिये वह बीसीसीआई से संपर्क करेंगे।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड