शनिवार, 30 मई, 2015 | 01:49 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट का डबल झटका, एलजी ही करेंगे नियुक्ति   क्या दाऊद को जल्द भारत ला रही सरकार बीएमडब्ल्यू ने पेश किया ग्रान कूपे का नया मॉडल  चीन में आमिर का एलियन अवतार हुआ हिट चीन में आमिर का एलियन अवतार हुआ हिट सायना की हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त 26 लड़कियों से रेप के आरोपी टीचर को मौत की सजा दिल्ली एयरपोर्ट पर रेडियोएक्टिव पदार्थ लीक से मचा हड़कंप, काबू में लीकेज स्पेलिंग बी प्रतियोगिता में फिर से भारतीयों का बोलबाला सरकारी नौकरीः 400 से ज्यादा दसवीं पास से लेकर इंजीनियर तक वैकेंसी
यूएस एंबेसी की अधिकारी के नाम पर रह रही महिला
First Published:01-05-12 11:23 PM

नोएडा। कार्यालय संवाददाता

यूएस एंबेसी की अधिकारी के नाम पर रेडीसन होटल में रह रही एक महिला को कोतवाली सेक्टर-20 पुलिस ने गिरफ्तार किया है। फर्जी लेटर हेड और मेल कर इस महिला ने होटल प्रशासन को अपने बारे में यूएस एंबेसी का अधिकारी बताया था। चेक आउट के समय जब होटल के कर्मचारियों ने यूएस एंबेसी से पता किया तो सब फर्जी निकला। इसके बाद होटल के कर्मचारियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। कोलकाता की रहने वाली गार्गी बनर्जी ऊर्फ तोहा अफरोज ने डबरा मार्गन बनकर 26 अप्रैल को सेक्टर-18 स्थित रेडीसन होटल में फोन कर खुद को यूएस एंबेसी में अधिकारी बताया। इसके बाद होटल प्रशासन को यूएस एंबेसी का एक मेल भी मिला जिसमें डबरा मार्गन के माध्यम से गार्गी के बारे में बताया गया।

26 अप्रैल को गार्गी होटल पहुंची और चेक इन कर लिया। इसके बाद चौथे दिन जब चेक आउट के समय होटल कर्मचारी ने यूएस एंबेसी में फोन कर पेमेंट के बारे में पूछा तो तब सब फर्जी निकला। जब गार्गी से इस बारे में बात की गई तो गार्गी ने क्रेडिट कार्ड देकर बिल चुकाने को कहा। यह क्रेडिट कार्ड भी फर्जी था। इसके बाद होटल के मैनेजर अरुण पंवार ने कोतवाली सेक्टर-20 पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने जब मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की तो फर्जीवाड़ा सामने आया। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। एनजीओ चलाती है गार्गी पुलिस पूछताछ में गार्गी के बारे में स्पष्ट रूप से बहुत कुछ पता नहीं चल पाया है। पुलिस के मुताबिक गार्गी कोलकाता की रहने वाली है और श्रीनगर में इसकी शादी हुई है। 34 साल की गार्गी एनजीओ चलाती है। पूछताछ में बार बार अपना बयान बदल रही है और अपने परिजनो के जितने भी नंबर पुलिस को दिए। इन पर संपर्क नहीं हो पाया। ऑटो का किराया भी होटल कर्मचारियों ने दियाजब 26 अप्रैल को डबरा मार्गन ने खुद को यूएस एंबेसी की अधिकारी बताकर फोन किया था तो उस वक्त कहा कि गार्गी ऑटो से आएगी और ऑटो का किराया भी होटल की तरफ से दिया जाएगा।

चेक आउट के समय सभी किराया यूएस एंबेसी की तरफ से दिया जाएगा। स्वीमिंग पूल से लेकर स्पा तक की सैरचार दिनों तक यूएस एंबेबी की अधिकारी के रूप में रही गार्गी पर होटल प्रशासन मेहरबान रहा। चार दिनों में नाश्ते से लेकर लंच व डिनर भी होटल में किया। साथ में रोज स्वीमिंग पूल व स्पा में भी मसाज कराती रही। चार दिनो ंमें एक लाख साठ हजार रुपए का बिल आया।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingअंतिम 11 में जगह मिलने की नहीं थी उम्मीद : सरफराज
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने वाले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के सबसे युवा बल्लेबाज सरफराज खान का कहना है कि उन्हें क्रिस गेल, ए.बी. डीविलियर्स और विराट कोहली जैसे विध्वंसक बल्लेबाजों के बीच अंतिम 11 में जगह मिलने का यकीन नहीं था और नम्बर छह की बेहद महत्वपूर्ण स्थान पर मौका दिये जाने से उनका आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड