class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कानून और परिवहन मंत्रालय में होता रहा बदलाव

दिल्ली सरकार को कानून और परिवहन मंत्री पद पर बार-बार बदलाव करना पड़ा है। सरकार के दो साल के कार्यकाल के दौरान लोग चौथे कानून मंत्री का कार्यकाल देखने जा रहे हैं। जबकि, परिवहन मंत्री पद पर भी बदलाव होते रहे हैं।

आम आदमी पार्टी ने अपने पहले कार्यकाल में सोमनाथ भारती को कानून मंत्री बनाया था। लेकिन, प्रचंड बहुमत से सत्ता में आने के बाद पार्टी ने जितेन्द्र तोमर को अपना कानून मंत्री बनाया। हालांकि, फर्जी डिग्री मामले में उनके फंसने के बाद कपिल मिश्रा को कानून मंत्री का प्रभार भी सौंप दिया गया। कपिल मिश्रा को मंत्री पद से हटाए जाने के बाद उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के पास यह प्रभार आ गया था। शुक्रवार को कैलाश गहलोत को मंत्री बनाए जाने के साथ ही कानून मंत्रालय का प्रभार उनके पास आ गया है। इसी प्रकार परिवहन मंत्रालय भी अलग-अलग लोगों के पास झूलता रहा है। पार्टी ने सबसे पहले गोपाल राय को परिवहन मंत्री बनाया था। लेकिन, उनके मंत्री पद छोड़ने के बाद सतेन्द्र जैन के पास इसका प्रभार आ गया। अब कैलाश गहलोत को इसका प्रभार सौंपा गया है। पार्टी सूत्र इस बार दोनों ही मंत्रालयों पर कैलाश गहलोत की लंबी पारी मान कर चल रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Delhi gov.