class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चौरास शहीदी मेले में कवियों ने जमाया रंग

श्रीनगर। हमारे संवाददाता

चौरास में शहीदी मेले में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। कलश संस्था के कवि ओमप्रकाश सेमवाल के संचालन में राज्य के विभिन्न जिलों से आए कवियों ने विभिन्न जिलों से आए कवियों ने एक से बढ़कर एक कविताएं सुनाकर खूब रंग जमाया। कवि सम्मेलन में श्रोताओं ने देर रात तक कविताओं का आनंद उठाया। गुरुवार को देर रात चले कवि सम्मेलन में रूद्रप्रयाग से पहुंचे कवि ओमप्रकाश सेमवाल ने यख त बढि़गेनी सौकार, ह्वेगी चकड़ेतों भरमार.., उत्तरकाशी से आए कवि ओम बधाणी ने नूडल चिप्स खैक हांपणा अचक्याल पैल्वान.., चमोली के मुरली दीवान ने शून्य से क्य समझिन तुम..,चमोली के ही तेजपाल निर्मोही ने उत्तराखंड राज्य जब अलग ह्वे छौ त.., श्रीनगर की बीना बैंजवाल ने बिसौणी कु ढंग्गू.., मोहित नेगी ने मनखि दिखे पर मनख्यात नि छै.., अजय गुसांई ने जाणि बुझि काख लगण मेरा बसे बात नी.., अनीता काला ने दिन सी छा जब.., दिलबर रावत ने मोदी जी तुमन य कनी जादू की लॉठी घुमाई.., मुकेश उनियाल ने हूण हुणत्यार का स्वीपना देखिन पर..कविता का पाठ किया। मौके पर शहीद मेला समिति के अध्यक्ष जयकृष्ण भट्ट, सुभाष पांडेय, संजय पांडेय, शैलेस मलासी आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:poets went to the fair
From around the web