class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समस्याएं हल नहीं होने पर भड़का नागरिक मंच

क्षेत्र में व्याप्त समस्याओं का अब तक निराकरण न होने पर नागरिक मंच के प्रतिनिधियों ने रोष व्यक्त किया है। व्यापार मंडल सभागार में आयोजित मंच के प्रतिनिधियों की मासिक बैठक में वक्ताओं ने कहा कि क्षेत्र की महत्वपूर्ण आवश्यकताओं, कोटद्वार जिले का गठन और लालढांग-चिल्लरखाल मोटर मार्ग को पूर्ण करने में सभी सरकारें असफल रही हैं। उन्होंने कहा कि कोई भी सरकार इसमें आने वाली बाधाओं का स्पष्टीकरण नहीं दे पाई।वक्ताओं ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि पहाड़ों के खाली होने के कारण सारा जन दवाब भाबर क्षेत्र पर आ गया है। बढ़ती आबादी के कारण चोरी की घटनाओं में भी वृद्धि हो रही है। नोट बंदी का स्वागत करते हुए कहा गया कि जनता को भी इसमें सहयोग करना चाहिए। मौके पर प्रदेश सरकार पर जंगली जानवरों से काश्तकारों की खेती को बचाने में असफल रहने का आरोप लगाते हुए कहा गया कि जंगली जानवरों को रिहायशी इलाके में आने से रोकने में वन विभाग भी असफल रहा है। इसी का नतीजा है कि काश्तकार खेती करने से पीछे हट रहा है। मौके पर टाटा मोटर से चौधरी मोहल्ले की ओर जाने वाली क्षतिग्र्रस्त सड़क के निर्माण की मांग भी की गई।बैठक में विनोद कुकरेती, हरीश भदोला, वीरेन्द्र गुसाई, प्रेम सिंह रावत,बलराम सिंह नेगी, आर सी कोठारी, नंदन सिंह रावत, सुधा सती, वाचस्पति बहुखंडी और महावीर सिंह रावत आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:naagrik manch