class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फूड लाइसेंस नहीं तो व्यापारी भरेंगे पांच लाख जुर्माना

अगर अपनी दुकान से किसी भी प्रकार का खाद्य पदार्थ बेचते हैं और आपने अब तक फूड लाइसेंस नहीं है बनाया है तो आपको कभी भी भारी जुर्माना देना पड़ सकता है। दसअरल, फूड लाइसेंस बनाने की समय सीमा अगस्त में समाप्त हो चुकी है, लेकिन अभी बड़ी संख्या में दुकानदारों ने लाइसेंस नहीं लिया है। इसलिए ऐसे मामलों में खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण छापेमारी कर जुर्माना ठोकने की तैयारी कर रहा है।

खाद्य सुरक्षा एक्ट बनने के बाद कड़े नियम बने हुए हैं। एक्ट बनने के बाद काफी समय तक व्यापारियों को लाइसेंस व पंजीकरण कराने में छूट दी गई। कई बार छूट बढ़ायी, ताकि व्यापारी अपने प्रतिष्ठान का पंजीकरण व लाइसेंस ले सके। बीते अगस्त माह में छूट खत्म हो गई है। हालांकि त्यौहार को देखते हुए खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण ने अभी सख्त रूख नहीं अपनाया है। आने वाले दिनों में प्राधिकरण की ओर से नोटिस भेजने की कार्रवाई भी की जा सकती है। एक्ट के तहत बड़े व्यवसायिक प्रतिष्ठानों का लाइसेंस बनता है। लाइसेंस न होने पर पांच लाख का जुर्माना और छह माह की सजा का प्रावधान है। छोटे दुकानदारों को पंजीकरण कराना होता है। पंजीकरण न होने की स्थिति में दो लाख का जुर्माना देना पड़ेगा। हालांकि अभी विभाग के पास ऐसा सर्वे नहीं है कि कितने छोटे और बड़े दुकानदार है। विभाग ने दुकानदारों को समय पर पंजीकरण व लाइसेंस बनाने को कहा है।

मिलावट खोरी पर प्राधिकरण सख्त

दीवाली पर्व को देखते हुए खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण ने मिलावटखोरी पर सख्त रूख अपनाया हुआ है। प्राधिकरण ने जनपद में फूड सैंपलिंग का अभियान शुरू किया हुआ है। दो दिन में 15 खाद्य पदाथार्ें के सैंपल लिए जा चुके हैं। जिसमें मिठाई, तेल, घी से लेकर दूध शामिल है।

व्यापारियों को लाइसेंस व पंजीकरण बनाने में समय की छूट खत्म हो गई है। निरीक्षण में पाया गया कि लाइसेंस नहीं है तो जुर्माना लगाया जाएगा। व्यापारियों को समय पर लाइसेंस बनाने के लिए कहा गया है।

अनुज थपलियाल, अभिहित अधिकारी, खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Traders will also have food licenses million penalty
From around the web