class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला से दुष्कर्म के आरोपी को नहीं मिली जमानत

: सितंबर में पीड़िता को बंधक बनाकर रेप करने का आरोप: विरोध करने पर मारपीट व जान से मारने की धमकी दी गई थीहरिद्वार। हमारे संवाददातामहिला को बंधक बनाकर दुराचार और जान से मारने की धमकी देने के मामले में जिला जज डीपी गैरोला ने आरोपी मोहन लाल उर्फ मोंटी की जमानत अर्जी रद्द कर दी है। पीड़ित महिला दिल्ली से धर्मनगरी में घूमने पहुंची थी।जिला शासकीय अधिवक्ता इन्द्रपाल सिंह बेदी बताया कि 25 सितंबर 2016 की रात पॉश कॉलोनी में आरोपी युवक पर दिल्ली निवासी महिला मित्र के साथ दुराचार करने का आरोप लगाया था। आरोप लगाया कि आरोपी मोहन लाल उर्फ मोंटी ने उसे कमरे में बंधक बनाकर रेप किया था। यहीं नही, घटना का विरोध करने पर आरोपी और उसके तीन साथियों ने पीड़िता से मारपीट, जान से मारने की धमकी और छेड़खानी करने का आरोप लगाया है। आरोपियों पर चंगुल से भागी पीड़ित महिला को पकड़कर देररात सड़क पर मारपीट करने का आरोप भी लगाया है। पुलिस ने आरोपी मोहन लाल को मौके पर ही दबोच लिया था। महिला ने पुलिस को आपबीती में बताया कि सहेली के साथ हरकी पैड़ी घूमने आई थी। जहां, आरोपी युवक ने उसे घर छोड़ने का झांसा दिया और अपने कमरे में ले आया था। कमरे में पहले से ही तीन युवक मौजूद थे। मामले की सुनवाई के बाद जिला जज की अदालत ने आरोपी मोहन लाल उर्फ मोंटी पुत्र प्रेम सिंह निवासी ग्राम मझौला बिलोच थाना शिवाला कलां जिला बिजनौर (यूपी) की जमानत अर्जी खारिज कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Not bail accused of raping girl