class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एमडीडीए के रूख से व्यापारियों में उबाल

इंदिरा मार्केट रि-डेवलपमेंट प्लान के विरोध में धरना दे रहे लोकल बस स्टैंड के व्यापारियों ने एमडीडीए के रैवये को लेकर खासा गुस्सा जाहिर किया है। उधर मेयर विनोद चमोली ने कहा कि एमडीडीए वीसी के चीन से वापस आने के बाद उनसे इस विषय पर बातचीत की जाएगी।

लोकल बस स्टैंड के व्यापारियों के धरने को एक सप्ताह हो गया है। बुधवार को भी व्यापारियों ने लोकल बस स्टैंड परिसर में धरना देकर एमडीडीए के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया। व्यापारियों ने कहा कि धरने को एक सप्ताह होने के बाद भी एमडीडीए चुप्पी साधे बैठे हुए है। इंदिरा मार्केट के चंद व्यापारियों की मिलीभगत से लोकल बस स्टैंड के व्यापारियों की अनदेखी की जा रही है। प्लान में यहां के व्यापारियों को छोटी दुकान देने का प्रावधान रखा गया है। साथ ही जितनी दुकानें यहां पर है, उससे कम दुकान प्लान में शामिल है। वर्षेां पहले व्यापारियों ने रजिस्ट्री के लिए एमडीडीए में पैसा भी जमा किया था। इसके बावजूद लोकल बस स्टैंड के व्यापारियों के साथ भेदभाव किया जा रहा है। इस प्लान को व्यापारी मंजूर नहीं करेगा। मेयर विनोद चमोली ने एमडीडीए वीसी चीन गए हैं। वहां से लौटने के बाद वह इस मसले पर एमडीडीए वीसी के समक्ष दुकानदारों का पक्ष रखेंगे। किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। धरने के दौरान दिनेश सती, अनंत आकाश, गुरुमीत, इमरान, जितेंद्र नरूला, मेहरबान, अशोक सचदेवा, दर्शन सिंह, जेआर शर्मा, प्रवीन जोशी आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mdda trend traders boil