class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह माह में ही अर्द्धकुंभ के कूड़ेदान बन गये कूड़ा

: छह माह में ही टूट गये अर्द्धकुंभ मेला के कूड़ेदान : निगम अधिकारी जल्द करने वाले हैं टूटे कूड़दानों की नीलामीहरिद्वार। हमारे संवाददातानगर निगम में परिसर में अर्द्धकुंभ के दौरान लिये गए कूड़ेदान भी कूड़े के ढेर में तब्दील हो चुके हैं। जबकि अर्द्धकुंभ को बीते अभी कुछ माह का समय ही बीता है। नगर निगम स्तर से अब जल्द ही बेकार हुए कूड़ेदानों की नीलामी भी शुरू करने की तैयारी की जा रही है।एक तरफ नगर निगम के अधिकारी निगम की आर्थिक तंगी का हवाला देते हैं। दूसरी तरफ नगर निगम में लाखों रुपये में खरीदे गया सामान कूड़ा बन गया है। इसकी तरफ किसी भी अधिकारी अथवा कर्मचारी की निगाह नहीं पड़ रही है। नगर निगम परिसर में पिछले काफी समय से बेकार और टूटे कूड़ेदानों का ढेर लगा हुआ है। इन्हीं टूटे कूड़ेदानों के ढेर में कुछ कूड़ेदान ऐसे भी हैं, जिन पर बड़े-बड़े अक्षरों में अर्द्धकुंभ वर्ष 2016 अंकित हैं। जबकि अर्द्धकुंभ को बीते अभी छह माह का समय ही बीता है। ऐसे में इन कूड़ेदानों का कूड़े में तब्दील हो जाना अधिकारियों की कार्यशैली पर प्रश्नचिह्न लगा रहा है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उक्त खराब पड़े कूड़ेदानों की नीलामी की तैयारी भी आरम्भ हो गई है।नगर निगम परिसर में पड़े टूटे कूड़ेदानों की जल्द ही नीलामी की जायेगी। लेकिन नीलामी से पूर्व वहां रखे कूड़दानों की जांच भी की जाएगी यदि कोई कूड़ेदान सही हालत में हुआ, तो उसकी नीलामी नहीं की जायेगी।-नरेन्द्र सिंह, नगर आयुक्त, हरिद्वार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:In six months, became the dustbin garbage Arddhkunb
From around the web