Image Loading Contract employee get pay direct department - Hindustan
शनिवार, 25 फरवरी, 2017 | 05:36 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
खास खबरें

ठेका कर्मचारियों को विभाग से मिलेगा वेतन

देहरादून, वरिष्ठ संवाददाता First Published:19-10-2016 05:53:57 PMLast Updated:19-10-2016 06:00:18 PM

देहरादून, वरिष्ठ संवाददाता

जल संस्थान संविदा श्रमिक संघ की मांगों को प्रबंधन ने मान लिया है। समय पर मानकों के अनुरूप वेतन सुनिश्चित कराने के साथ ही सीधे विभाग से वेतन भुगतान की भी व्यवस्था होगी। इसके लिए प्रबंधन की ओर से शासन को प्रस्ताव भेजा जाएगा।

20 दिन से चल रहे श्रमिकों ने ठेकेदारी व्यवस्था के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए मुख्यालय पर धरना दे रखा था। मुख्य महाप्रबंधक एसके गुप्ता ने संघ प्रतिनिधिमंडल के साथ वार्ता कर मांगों पर ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया।

बताया कि वेतन भुगतान ठेकेदार की बजाय सीधे विभाग से किए जाने की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए प्रस्ताव तैयार कर शासन से मंजूर कराया जाएगा। सभी कर्मचारियों को मानक के अनुरूप पूरा वेतन भुगतान किया जाएगा। समय समय पर होने वाले बढ़ोत्तरी का भी लाभ मिलेगा। ईपीएफ भी नियमित रूप से खाते में जमा होगा। हर वर्ष अप्रैल में ईपीएफ जमा धनराशि का विवरण उपलब्ध कराया जाएगा।

सामूहिक बीमा पॉलिसी की छाया प्रति भी उपलब्ध होगी। यदि किसी ठेकेदार का श्रम विभाग में पंजीकरण नहीं है, तो बैंक खाता खोलकर ईपीएफ की धनराशि भी उसमें जमा होगी। पासबुक श्रमिक के पास ही रहेगी। दुर्घटना व मृत्यु के बाद परिजनों को लाभ मिल सके, इसके लिए श्रमिकों को बीमा पॉलिसी से जोड़ा जाएगा। प्रीमियम का भुगतान जल संस्थान करेगा। हर महीने की 15 तारीख तक वेतन भुगतान न करने व श्रम मानकों का पालन न करने वाले ठेकेदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। सीजीएम के आश्वासन के बाद आंदोलन स्थगित कर दिया गया। वार्ता में मुख्य महाप्रबंधक एसके गुप्ता, विशेष कार्य अधिकारी डीएस रावत, संघ अध्यक्ष आर्येंद्र कुमार सिंह, महामंत्री मोहन प्रसाद पुरोहित मौजूद रहे।

हिन्दुस्तान का जताया आभार

देहरादून। जल संस्थान श्रमिक संघ ने आपके प्रिय समाचार पत्र हिन्दुस्तान का विशेष आभार जताया। अध्यक्ष आर्येंद्र कुमार सिंह व महामंत्री मोहन पुरोहित ने आभार जताते हुए कहा कि हिन्दुस्तान ने ही संविदा कर्मचारियों के वेतन घपले की खबर को प्रमखता से उठाया। इसी के बाद शासन, प्रबंधन की नींद टूटी। हिन्दुस्तान के प्रयासों से ही श्रमिकों को समय पर मानक अनुरूप वेतन सुनिश्चित हो पाया।

बाहर होंगे गैर पंजीकृत ठेकेदार

देहरादून। ऐसे ठेकेदार जिनका पंजीकरण श्रम विभाग में नहीं है, उन्हें विभाग के साथ नहीं जोड़ा जाएगा। साप्ताहिक अवकाश न लेने पर भुगतान श्रमिक को ही किया जाएगा। किसी भी श्रमिक को बिना किसी ठोस कारण के नहीं हटाया जाएगा। जिस श्रेणी का काम लिया जा रहा है, भुगतान उसी श्रेणी का होगा।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: Contract employee get pay direct department
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड