class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल में व्रत रख आशमा ने पेश की मिसाल

: रोशनाबाद में 20 महिला कैदियों ने पति की लंबी उम्र के लिए रखा व्रत

: मुस्लिम समाज की आशमा ने भी पति के दीर्घायु की कामना की

हरिद्वार। हमारे संवाददाता

बुधवार को पूरे देश में महिलाओं ने व्रत रखकर अपने पति की लंबी उम्र की कामना की। हरिद्वार जिला जेल में भी महिला कैदियों ने भी इस परम्परा को निभाया। वहीं जिला जेल में बंद मुस्लिम कैदी ने भी करवाचौथ का व्रत रखकर मिसाल पेश की।

मान्यता है कि करवाचौथ के दिन महिलाओं के व्रत रखने से उनके पति की आयु लंबी होती है। इस निर्जल व्रत में रात को चन्द्र दर्शन देखने के बाद ही व्रत खोलने की परंपरा है। इस करवाचौथ पर रोशनाबाद जेल में बंद एक मुस्लिम महिला कैदी आशमा ने भी अपने पति गुफरान की लंबी आयु के लिए व्रत रखा। जेल में बंद अन्य महिला कैदियों के साथ आशमा दिनभर व्रत धारण किये रही। आशमा का व्रत रखना दिनभर जेल के भीतर चर्चा का विषय बना रहा।

20 महिला कैदियों ने रखा व्रत

रोशनाबाद जेल में करीब 50 महिला कैदी हैं। इनमें से 20 ने बुधवार को करवाचौथ का व्रत रखा। जेल प्रबंधन की ओर से व्रत रखने वाली महिलाओं के लिए विशेष इंतजाम किए गए थे। शाम के समय उनके लिए पूजन करने की व्यवस्था की गई। व्रत रखने वाली महिलाओं को उनके पति से मिलवाने के लिए भी प्रबंध किया गया था। रोशनाबाद जेल में कुछ कैदी ऐसे भी हैं, जो पति-पत्नी हैं। करवाचौथ पर उन्हें मिलवाने के इंतजाम जेल प्रबंधन की ओर से किए गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जेल में व्रत रख आशमा ने पेश की मिसाल
From around the web