शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 16:41 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर हादसा, ट्रेन के नीचे आने से एक व्यक्ति की मौतकेंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह महाराष्ट्र में सरकार के गठन के संदर्भ में आगामी सोमवार को राज्य का दौरा कर सकते हैं: सूत्र
'मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड गैंगरेप पीड़िता को समर्पित'
पुणे, एजेंसी First Published:21-12-12 12:01 PMLast Updated:21-12-12 01:20 PM
Image Loading

टेस्ट क्रिकेट में हार के बाद टी20 सीरीज़ के पहले मैच में मिली जीत के बाद युवराज सिंह ने अपने मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड को गैंगरेप की शिकार हुई युवती को समर्पित कर दिया। युवराज ने कहा कि मैं यह मैन ऑफ द मैच पुरस्कार दिल्ली में गैंगरेप की शिकार लड़की को समर्पित करता हूं। उसके साथ जो कुछ भी हुआ, बहुत बुरा हुआ और पूरी टीम बहुत चिंतित है।

युवराज ने लड़की के जल्द ठीक होने के लिए दुआ मांगी। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता कि लड़की की स्थिति अब क्या है। मैंने उसके बारे में काफी कुछ पढ़ा है और यह बहुत ही व्यथित करने वाला है।

पहला टी20 मैच जीतने पर युवराज ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि उनकी टीम इस लय को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में ही नहीं बल्कि पाकिस्तान के खिलाफ आगामी सीरीज़ में भी जारी रखेगी।

इंग्लैंड को गुरुवार रात पुणे में पांच विकेट से मिली जीत के बाद युवराज ने कहा कि टी20 और वनडे क्रिकेट में हमने उनके खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया है। उम्मीद है कि यह लय कायम रहेगी क्योंकि आगे पाकिस्तान के खिलाफ अहम सीरीज़ खेलनी है।
     
युवराज ने हरफनमौला की भूमिका बखूबी निभाते हुए 19 रन देकर तीन विकेट लिये। इसके बाद 21 गेंद में तीन छक्कों और दो चौकों की मदद से 38 रन भी बनाये। भारत और पाकिस्तान के बीच दो टी20 मैच 25 और 28 दिसंबर को क्रमश: बेंगलूरु और अहमदाबाद में खेले जायेंगे।
     
इसके बाद 30 दिसंबर से छह जनवरी तक तीन वनडे मैचों की सीरीज़ होगी। इसके बाद भारत 11 से 27 जनवरी तक इंग्लैंड से बेस्ट ऑफ फाइव वनडे सीरीज़ खेलेगा।
     
युवराज ने कहा कि इंग्लैंड से पिछले साल सीरीज़ हारना और फिर यहां 2-1 से हारना निराशाजनक था। इंग्लैंड ने अच्छी क्रिकेट खेली लेकिन हमने उन्हें पिछले साल वनडे में 5-0 से हराया था। उन्होंने कहा कि युवा खिलाड़ियों के होने से टीम की फील्डिंग बेहतर हुई है।

युवराज ने कहा कि पहला मैच जीतकर अच्छी शुरूआत जरूरी है। युवाओं के आने से टीम की फील्डिंग काफी बेहतर हुई है और इस जीत से आत्मविश्वास बढ़ेगा। टी20 और वनडे क्रिकेट वाले फॉर्म को टेस्ट में नहीं दिखा सके युवराज ने कहा कि छोटे प्रारूप में उन्हें खुलकर खेलने का मौका मिलता है।
    
उन्होंने कहा कि मैं टी20 में खुलकर खेल पाता हूं। मुझे अपनी बल्लेबाजी में मजा आता है और गेंदबाजी भी प्रभावी रहती है। कैंसर से उबरने के बाद मैदान पर लौटे इस चैम्पियन क्रिकेटर ने कहा कि स्पिनरों ने पहले टी20 में इंग्लैंड को अच्छी शुरूआत नहीं करने दी।
    
उन्होंने कहा कि जब सलामी बल्लेबाज तेजी से खेलते हैं तो चिंता होने लगती है। हम 180-190 रन भी बना लेते लेकिन हमारे स्पिनरों ने बेहतरीन प्रदर्शन करके उन्हें वहां तक पहुंचने ही नहीं दिया। युवराज ने कहा कि भारतीय टीम को आगे ले जाने के लिये युवाओं को टीम में ज्यादा जगह देनी होगी।
    
उन्होंने कहा कि युवाओं का टीम में आना अच्छी बात है। हमारे पास परविंदर अवाना और भुवनेश्वर कुमार जैसे बेहतरीन खिलाड़ी हैं। रैना, कोहली और रोहित टीम के सदस्य हैं और मैं सीनियर हो गया हूं। युवाओं को मौके देना टीम के लिये अच्छी बात है।
 
 
 
टिप्पणियाँ