बुधवार, 08 जुलाई, 2015 | 03:35 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    VIDEO: शाहिद और मीरा विवाह के पवित्र बंधन में बंधे, देखिए दिलकश तस्वीरें कुमाऊं में भारी बारिश से 44 मार्ग बंद, केदार पैदल यात्रा भी नहीं हुई शुरू टर्किश एयरलाइंस के विमान को उड़ान की मंजूरी, कोई बम नहीं मिला दिल्ली छोड़कर जा रहा है 'चीकू', क्या आपको भी है खबर व्यापमं मामला: शिवराज पर बढ़ा दबाव, सीबीआई जांच को हुए तैयार गंगा का जलस्तर बढ़ा, बाढ़ का खतरा सदी की सबसे बड़ी फाइट जीतकर भी हार गए मेवेदर, जानिए कैसे बख्शे नहीं जाएंगे थाने में महिला को जलाकर मारने के दोषी: अखिलेश यादव PHOTO: धौनी के लिए प्रशंसक ने बनवाया खास केक, आप भी देखें गूगल अर्थ में जल्द दिखेगा भारत के शहरों का एरियल व्यू
'अब भी टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए फिट हूं'
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-13 02:51 PM
Image Loading

वीवीएस लक्ष्मण को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहे हुए पांच महीने बीत गए लेकिन इस दिग्गज बल्लेबाज का मानना है कि वह अब भी टेस्ट प्रारूप में खेलने के लिए फिट हैं।
    
लक्ष्मण से जब उनकी प्राथमिकता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि शायद सफेद कपड़ों में खेलना पसंद करूंगा। भारतीय बल्लेबाज जब टीम को लगातार निराश कर रहे हैं तब लक्ष्मण के पास उनके लिए सलाह है।
    
इस पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने कहा कि यह सिर्फ अच्छी शुरूआत को बड़े स्कोर में बदलने का मामला है। जब भी कोई बल्लेबाज अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में बदलता है और अन्य बल्लेबाज उसके साथ खेलते हैं तो आप सामान्यत: गेंदबाजों के रक्षा करने के लिए अच्छा स्कोर बना लेते हो।
    
आंकड़े भले ही लक्ष्मण के पक्ष में नहीं हों लेकिन उन्होंने कहा कि 2011 में विश्व कप जीत के बाद भारतीय टीम ने सीमित ओवरों के मैचों में उतना खराब प्रदर्शन नहीं किया।
      
लक्ष्मण ने यहां एक प्रचार कार्यक्रम के इतर कहा कि मुझे लगता है कि इन दो मैचों (पाकिस्तान के खिलाफ मौजूदा सीरीज़ के) के अलावा वनडे प्रारूप में हमने अच्छा प्रदर्शन किया है। मुझे लगता है कि विश्व कप के बाद हमारा प्रदर्शन ठीक रहा और टी20 में भी हम अच्छा खेले।

लक्ष्मण ने कहा कि हम टी20 विश्व कप के नॉकआउट में क्वालीफाई नहीं कर पाए। हमने चार मैच खेले और एक में बुरी तरह हार गए और क्वालीफाई नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर टी20 और वनडे क्रिकेट में हमने अच्छा प्रदर्शन किया।
      
पाकिस्तान के हाथों हार पर लक्ष्मण ने कहा कि मुझे लगता है कि इन दो मैचों में पाकिस्तान के गेंदबाजों को श्रेय दिया जाना चाहिए। उनके पास जुनैद (खान), (मोहम्मद) इरफान और उमर गुल के रूप में तीन आक्रामक तेज गेंदबाज हैं।
      
उन्होंने कहा कि मैंने कोलकाता में मैच देखा और जुनैद तथा इरफान ने चेन्नई की तरह ही तूफानी गेंदबाजी की। इसलिए मुझे लगता है कि पाकिस्तानी गेंदबाजी आक्रमण काफी मजबूत है। अपने संन्यास के बारे में लक्ष्मण ने कहा कि मैंने भारत की ओर से अच्छा प्रदर्शन किया। एक समय आपको आगे बढ़ना होता है और मुझे लगता है कि 16 साल खेलने के बाद वह मेरे लिए सही समय था।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड