शनिवार, 23 मई, 2015 | 17:24 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    यौन उत्पीड़न मामले में पचौरी को टेरी ने माना दोषी अगले एक साल में पाकिस्तान से परमाणु हथियार खरीद सकता है ISIS रामपुर में लेखपाल हड़ताल पर इस कंपनी ने चार कर्मचारियों को तोहफे में दी कार क्या जयललिता को शुभ मुहूर्त में शपथ दिलाने के लिए किया गया राष्ट्रगान का अपमान? तो इस वजह से आडवाणी को बीजेपी नेताओं ने नहीं बुलाया असम में पटरी से उतरी ट्रेन, 10 यात्री घायल  जब मोदी को हाथ पकड़कर मंच पर लाए दिग्विजय सिंह जयललिता ने पांचवीं बार ली मुख्यमंत्री पद की शपथ स्पाइसजेट की हैप्पी बर्थडे स्कीम, किराये में 10 फीसदी की छूट
सहवाग को कभी रास नहीं आयी कोटला की पिच
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-13 02:55 PM
Image Loading

नजफगढ के नवाब वीरेंद्र सहवाग को पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे वनडे मैच के लिये अंतिम एकादश में शामिल नहीं किये जाने से दिल्ली के दर्शक भले ही निराश थे लेकिन हकीकत यह है कि यह विस्फोटक सलामी बल्लेबाज अपने घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला पर कभी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया।

सहवाग ने विश्व कप 2011 में जीत के बाद से 15 वनडे मैचों में केवल 513 रन बनाये हैं। इनमें से 219 रन उन्होंने एक पारी में (वेस्टइंडीज के खिलाफ इंदौर में) में बनाये थे। इस तरह से बाकी 14 मैच में वह केवल 294 रन ही बना पाये।

पाकिस्तान के खिलाफ पिछले दो मैच में दायें हाथ का यह बल्लेबाज केवल 35 रन बना पाया जिसके कारण उन्हें तीसरे मैच की टीम से बाहर कर दिया गया। सहवाग की जगह अंजिक्य रहाणे को अंतिम एकादश में रखा गया।

दर्शकों को हालांकि टीम प्रबंधन का यह फैसला पसंद नहीं आया और इनमें से कुछ वीरू वीरू की आवाज लगाते रहे। लेकिन लगता है कि टीम प्रबंधन ने सहवाग को बाहर करने का फैसला उनके हालिया प्रदर्शन के अलावा कोटला पर उनके रिकार्ड को देखकर भी किया।

सहवाग ने कोटला पर छह वनडे मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 24.00 की औसत से केवल 120 रन बनाये हैं। उनका उच्चतम स्कोर 42 रन है। टेस्ट मैचों में भी सहचाग अपने घरेलू मैदान पर कभी बड़ी पारी नहीं खेल पाये हैं। उन्होंने यहां तीन टेस्ट मैच की पांच पारियों में 201 रन बनाये हैं जिसमें उनका उच्चतम स्कोर 74 रन है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
Image Loadingआईपीएल 8: ‘महामुकाबले’ के लिये तैयार धोनी और रोहित
खेल, रोमांच, मनोरंजन और मालामाल करने वाले दुनिया के सबसे लोकप्रिय दनादन क्रिकेट टूर्नामेंट इंडियन प्रीमियर लीग में छठी बार फाइनल में पहुंची चेन्नई सुपरकिंग्स और पूर्व चैंपियन मुंबई इंडियन्स रविवार को ऐतिहासिक ईडन गार्डन मैदान पर पूरे दमखम के साथ आठवें संस्करण का खिताब पाने के लिये उतरेंगे।