मंगलवार, 01 सितम्बर, 2015 | 17:39 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
सहवाग को कभी रास नहीं आयी कोटला की पिच
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-2013 02:55:37 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

नजफगढ के नवाब वीरेंद्र सहवाग को पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे वनडे मैच के लिये अंतिम एकादश में शामिल नहीं किये जाने से दिल्ली के दर्शक भले ही निराश थे लेकिन हकीकत यह है कि यह विस्फोटक सलामी बल्लेबाज अपने घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला पर कभी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया।

सहवाग ने विश्व कप 2011 में जीत के बाद से 15 वनडे मैचों में केवल 513 रन बनाये हैं। इनमें से 219 रन उन्होंने एक पारी में (वेस्टइंडीज के खिलाफ इंदौर में) में बनाये थे। इस तरह से बाकी 14 मैच में वह केवल 294 रन ही बना पाये।

पाकिस्तान के खिलाफ पिछले दो मैच में दायें हाथ का यह बल्लेबाज केवल 35 रन बना पाया जिसके कारण उन्हें तीसरे मैच की टीम से बाहर कर दिया गया। सहवाग की जगह अंजिक्य रहाणे को अंतिम एकादश में रखा गया।

दर्शकों को हालांकि टीम प्रबंधन का यह फैसला पसंद नहीं आया और इनमें से कुछ वीरू वीरू की आवाज लगाते रहे। लेकिन लगता है कि टीम प्रबंधन ने सहवाग को बाहर करने का फैसला उनके हालिया प्रदर्शन के अलावा कोटला पर उनके रिकार्ड को देखकर भी किया।

सहवाग ने कोटला पर छह वनडे मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 24.00 की औसत से केवल 120 रन बनाये हैं। उनका उच्चतम स्कोर 42 रन है। टेस्ट मैचों में भी सहचाग अपने घरेलू मैदान पर कभी बड़ी पारी नहीं खेल पाये हैं। उन्होंने यहां तीन टेस्ट मैच की पांच पारियों में 201 रन बनाये हैं जिसमें उनका उच्चतम स्कोर 74 रन है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingभारत ने रचा इतिहास, 22 साल बाद श्रीलंका में टेस्ट सीरीज जीती
भारतीय क्रिकेट टीम ने सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर जारी तीसरे टेस्ट मैच के पांचवें दिन श्रीलंका को 117 रनों से हराया। इस जीत के साथ भारत ने 22 साल बाद टेस्ट सीरीज पर कब्जा कर इतिहास रचा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब एयरपोर्ट जा पहुंचा एक शराबी...
एक रात एक शराबी एयरपोर्ट के बाहर खड़ा था।
एक वर्दीधारी युवक उधर से गुजरा।
शराबी- एक टैक्सी ले आओ।
युवक बोला- मैं पायलट हूं, टैक्सी ड्राइवर नहीं।
शराबी- नाराज क्यों होते हो भाई, टैक्सी नहीं तो एक हवाई जहाज ले आओ।