शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 18:25 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
आरएसएस के सह सर कार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल के पिता का नोएडा में निधनहिन्दुस्तान: जामताडा में 71 प्रतिशत और नाला विधानसभा क्षेञ में 74 प्रतिशत मतदान की सूचनाजम्मू कश्मीर में 3 बजे तक 55% मतदानइंडिया टुडे और सिसेरो का एग्जिट पोल: झारखंड में बीजेपी को बहुमत के आसारएग्जिट पोल: झारखंड में पहली बार बहुमत की सरकार के आसारएग्जिट पोल: झारखंड में कांग्रेस को 16 % प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: झारखंड में जेएमएम को 20 % प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: झारखंड में बीजेपी को 36% प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: कांग्रेस को 7-11, बीजेपी 41-49, जेएमएम 15-19, अन्य 8-12 सीटों पर जीत मिलने की संभावनाएग्जिट पोल: झारखंड में पहली बार बहुमत की सरकार बनने के आसारअगर आपको धर्मांतरण से एतराज है तो धर्मांतरण के खिलाफ संसद में कानून लाइए: मोहन भागवतझारखंड विधानसभा के पांचवें और आखिरी चरण के मतदान का समय खत्म हो गया है।जम्मू: कठुआ जिले में सीमवर्ती निर्वाचन क्षेत्र हीरानगर में महिला मतदाताओं की संख्या, पुरुष मतदाताओं से अधिक रही। कठुआ जिले के दूर-दराज के बानी और बिलावर निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान प्रक्रिया की शुरुआत धीमी रही।जम्मू: राजौरी जिले की राजौरी, दारहल, कालकोट और नौशेरा में भी सुबह के समय मतदान प्रक्रिया सुस्त रही।
सहवाग को कभी रास नहीं आयी कोटला की पिच
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-13 02:55 PM
Image Loading

नजफगढ के नवाब वीरेंद्र सहवाग को पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे वनडे मैच के लिये अंतिम एकादश में शामिल नहीं किये जाने से दिल्ली के दर्शक भले ही निराश थे लेकिन हकीकत यह है कि यह विस्फोटक सलामी बल्लेबाज अपने घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला पर कभी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया।

सहवाग ने विश्व कप 2011 में जीत के बाद से 15 वनडे मैचों में केवल 513 रन बनाये हैं। इनमें से 219 रन उन्होंने एक पारी में (वेस्टइंडीज के खिलाफ इंदौर में) में बनाये थे। इस तरह से बाकी 14 मैच में वह केवल 294 रन ही बना पाये।

पाकिस्तान के खिलाफ पिछले दो मैच में दायें हाथ का यह बल्लेबाज केवल 35 रन बना पाया जिसके कारण उन्हें तीसरे मैच की टीम से बाहर कर दिया गया। सहवाग की जगह अंजिक्य रहाणे को अंतिम एकादश में रखा गया।

दर्शकों को हालांकि टीम प्रबंधन का यह फैसला पसंद नहीं आया और इनमें से कुछ वीरू वीरू की आवाज लगाते रहे। लेकिन लगता है कि टीम प्रबंधन ने सहवाग को बाहर करने का फैसला उनके हालिया प्रदर्शन के अलावा कोटला पर उनके रिकार्ड को देखकर भी किया।

सहवाग ने कोटला पर छह वनडे मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 24.00 की औसत से केवल 120 रन बनाये हैं। उनका उच्चतम स्कोर 42 रन है। टेस्ट मैचों में भी सहचाग अपने घरेलू मैदान पर कभी बड़ी पारी नहीं खेल पाये हैं। उन्होंने यहां तीन टेस्ट मैच की पांच पारियों में 201 रन बनाये हैं जिसमें उनका उच्चतम स्कोर 74 रन है।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड