गुरुवार, 18 दिसम्बर, 2014 | 22:49 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
भूकंप की तीव्रता 5.2 मापी गई। केंद्र नेपाल में।सहरसा, खगड़िया, पूर्णिया में भी झटके महसूस किए गए। हैं। तीव्रता कम रही। कहीं नुकसान की सूचना नहीं है।समस्तीपुर, मधुबनी व मुजफ्फरपुर में 9.03 बजे भूकंप के हल्के झटके लोगों ने महसूस किये हैं।यूपी में आगरा सबसे ठंडा। न्यूनतम तापमान 4.7 डिग्री सेल्सियस रहा।नक्सली हमले की आशंका, पुलिस ने की फायरिंग, शाम पांच बजे की घटनाअमड़ापाड़ा चेकपोस्ट से दो जवान हथियार समेत गायबलखवी को दी गई जमानत बेहद दुर्भाग्यपूर्ण: राजनाथएलएन मिश्रा हत्‍याकांड में चार दोषियों को उम्रकैद
धौनी को हटाने के लिए सही समय नहीं: गावस्कर
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:12-12-12 08:13 PM
Image Loading

पूर्व राष्ट्रीय चयनकर्ता मोहिंदर अमरनाथ ने खुले तौर पर कहा कि महेंद्र सिंह धौनी को टेस्ट टीम की कप्तानी से हटाने की जरूरत है लेकिन भारतीय टीम के उनके पूर्व साथी सुनील गावस्कर का मानना है कि समय उपयुक्त नहीं है क्योंकि कोई विकल्प मौजूद नहीं है।

गावस्कर ने कहा कि धौनी का कोई विकल्प नहीं है। वह और विराट कोहली मैदान पर थके बिना काम करते हैं। विराट अपवाद है और धौनी पर भी थकान हावी नहीं होती। उसने कैच और स्टंप करने के ज्यादा मौके नहीं गंवाए हैं। यह पूछने पर कि जब तक किसी को मौका नहीं दिया जाएगा तब तक कैसे पता चलेगा कि विकल्प उपलब्ध है तब गावस्कर ने कहा कि समय सही नहीं है। संभवत: नागपुर टेस्ट के बाद पुनर्विचार किया जा सकता है क्योंकि सीरीज समाप्त हो जाएगी। गावस्कर ने चयन विवाद पर बोलने के अमरनाथ के फैसले को हौसले भरा करार दिया।

उन्होंने कहा कि जिमी ने जो किया वह काफी हौंसले वाला काम है और इससे सबक सीखने की जरूरत है। उसमें हौसला था और वह इससे नतीजों का सामना करने को तैयार है। धौनी को कप्तानी से हटाने के फैसले को एन श्रीनिवासन के स्वीकृति नहीं देने के अमरनाथ के आरोपों पर गावस्कर ने कहा कि यह हमेशा से प्रोटोकाल रहा है कि बोर्ड से अंतिम स्वीकृति ली जाती है। इसमें कुछ भी असाधारण नहीं है। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट बोर्ड में भी ऐसा किया जाता है।

यह पूछने पर कि धौनी चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान है जो बोर्ड अध्यक्ष की फ्रेंचाइजी है तो क्या इसकी भी कप्तानी मुद्दे में भूमिका रही तब गावस्कर ने कहा कि यह कहना मुश्किल होगा। हमें विश्वास करना होगा कि बीसीसीआई अध्यक्ष के दिल में देश के क्रिकेट का हित है।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड