सोमवार, 31 अगस्त, 2015 | 05:58 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
संन्यास से हैरान पूर्व क्रिकेटरों का सचिन को सलाम
मुंबई, एजेंसी First Published:23-12-2012 03:53:08 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

क्रिकेट जगत ने सचिन तेंदुलकर के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने पर उनकी तारीफों के पुल बांधते हुए रविवार को कहा कि रिकॉर्डों के बादशाह की उपलब्धियों तक पहुंचना किसी भी बल्लेबाज के लिये नामुमकिन होगा।

इस 39 वर्षीय क्रिकेटर के वनडे से संन्यास लेने की घोषणा के तुरंत बाद इस पर प्रतिक्रियाएं आने लगी।

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि मुझे लगता है कि उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज़ में खेलना चाहिए था। लेकिन यह उनका फैसला है और यह सही है। इस पर सवाल उठाये जा रहे थे कि उन्हें वनडे क्रिकेट खेलना चाहिए या नहीं। लेकिन मैं उनके फैसले से हैरान नहीं हूं। उन्होंने वही किया जो उन्हें सही लगा।

उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि उन पर चयनकर्ताओं की तरफ से किसी तरह का दबाव था। यह उनका खुद का फैसला था। उन्हें कोई बाहर नहीं कर सकता था। तेंदुलकर के पहले कप्तान रहे के श्रीकांत ने कहा कि वह इस बल्लेबाज के फैसले से हैरान हैं।

उन्होंने कहा कि मैं उनके फैसले से हैरान हूं लेकिन वह सम्मान के साथ वनडे क्रिकेट को अलविदा कह रहे हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि वह टेस्ट क्रिकेट से भी सम्मान के साथ विदा होना चाहेंगे। उनकी निगाह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अच्छी टेस्ट सीरीज़ पर होगी।

श्रीकांत ने कहा कि उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन उन्होंने हमेशा अच्छे आक्रमण के खिलाफ बेहतर खेल दिखाया। चाहे वह 1992 विश्व कप हो या 2003 या फिर 2011 का विश्व कप उन्होंने हमेशा पाकिस्तान के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingकोलंबो टेस्ट: भारत को 132 रनों की बढ़त
इशांत शर्मा ( 54 रन पर पांच विकेट) की घातक गेंदबाजी और इससे पहले ओपनर चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 145) रन के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने यहां तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को अपना शिकंजा कसते हुये मेजबान श्रीलंका के खिलाफ 111 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

सीसीटीवी कैमरों का जमाना है...
पिता: एक समय था, जब मैं 10 रुपए में किराना, दूध, सब्जी और नाश्ता ले आता था..
बेटा: अब संभव नहीं है, पापा अब वहां सीसीटीवी कैमरे लगे होते हैं।