बुधवार, 08 जुलाई, 2015 | 07:53 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    VIDEO: शाहिद और मीरा विवाह के पवित्र बंधन में बंधे, देखिए दिलकश तस्वीरें कुमाऊं में भारी बारिश से 44 मार्ग बंद, केदार पैदल यात्रा भी नहीं हुई शुरू टर्किश एयरलाइंस के विमान को उड़ान की मंजूरी, कोई बम नहीं मिला दिल्ली छोड़कर जा रहा है 'चीकू', क्या आपको भी है खबर व्यापमं मामला: शिवराज पर बढ़ा दबाव, सीबीआई जांच को हुए तैयार गंगा का जलस्तर बढ़ा, बाढ़ का खतरा सदी की सबसे बड़ी फाइट जीतकर भी हार गए मेवेदर, जानिए कैसे बख्शे नहीं जाएंगे थाने में महिला को जलाकर मारने के दोषी: अखिलेश यादव PHOTO: धौनी के लिए प्रशंसक ने बनवाया खास केक, आप भी देखें गूगल अर्थ में जल्द दिखेगा भारत के शहरों का एरियल व्यू
खिलाड़ियों को भारत में स्वतंत्रता देनी चाहिए: अकरम
कराची, एजेंसी First Published:18-12-12 11:13 PM
Image Loading

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) और राष्ट्रीय टीम प्रबंधन को सलाह दी है कि भारत के दौरे के दौरान खिलाड़ियों से स्कूली बच्चों जैसा व्यवहार नहीं करना चाहिए।

पाकिस्तान टीम के मैनेजर नावेद चीमा द्वारा की गई टिप्पणी पर प्रतिक्रिया करते हुए अकरम ने आज कहा कि अगर उन्हें ऐसा महसूस कराया जायेगा कि वे भारत में जेल में हैं तो इससे उनके प्रदर्शन पर असर पड़ेगा।

चीमा ने कहा था कि खिलाड़ियों को भारत में स्वतंत्र होकर घूमने और निजी पार्टियों या कार्यक्रमों में जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। अकरम ने कहा कि मैं इससे सहमत नहीं हूं। मुझे लगता है कि खिलाड़ियों को स्वतंत्रता देनी चाहिए। अगर वे रिलैक्स रहेंगे तो वे अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

उन्होंने कहा कि मैं जानता हूं कि स्पाट फिक्सिंग प्रकरण और मीडिया के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में चीजें बदल गई हैं लेकिन फिर भी खिलाड़ियों को जिम्मेदारी देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पीसीबी को खिलाड़ियों को और जिम्मेदारी देनी चाहिए।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड