शनिवार, 29 अगस्त, 2015 | 18:08 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
महाराष्ट्र पुलिस के प्रमुख संजीव दयाल ने कहा कि अगर यह साबित हुआ कि रायगढ़़ पुलिस के किसी अधिकारी ने शीना बोरा मामले की 2012 में हुई जांच में लीपा-पोती की है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।मुरादाबाद: चंदौसी रोड पर 12 साल के आमिर हमज़ा नाम के बच्चे की गर्दन चाइनीज़ मांझे से कटी, इलाज के दौरान बच्चे की मौत
हम भाग्यशाली रहे, सुधार की जरूरत: मिसबाह
चेन्नई, एजेंसी First Published:30-12-2012 10:12:11 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

पाकिस्तान ने पहले वनडे मैच में भले ही भारत को छह विकेट से हराया हो लेकिन कप्तान मिसबाह उल हक ने कहा कि उनकी टीम आज भाग्यशाली रही और दूसरे मैच में जीत के लिए उनकी टीम को अधिक कड़ी मेहनत और कुछ सुधार करने होंगे।

मिसबाह ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आज हम भाग्यशाली रहे। भारत ने इस तरह की परिस्थितियों में हमें कड़ी चुनौती दी। उन्होंने पांच विकेट जल्दी गंवा दिए लेकिन फिर भी 227 रन बनाने में सफल रहे और हम आसानी से लक्ष्य हासिल नहीं कर पाए। इसलिए मुझे लगता है कि हमें काफी सुधार करने की जरूरत है। अगला मैच जीतने के लिए हमें कड़ी मेहनत और कुछ सुधार करने होंगे।

उन्होंने कहा कि हमें अपने क्षेत्ररक्षण, डेथ ओवर और पावरप्ले गेंदबाजी में वास्तव में सुधार करना होगा। वनडे के इन नियमों के बाद हमें आखिरी दस ओवर और पावरप्ले में गेंदबाजी में सुधार करने की जरूरत है। मिसबाह ने कहा कि जब दो बल्लेबाज जम जाते हैं तो उनके लिए गेंदबाजी करना मुश्किल होता है जैसे कि धौनी के लिए। इसलिए हमें अपने क्षेत्ररक्षकों के साथ रणनीति बनानी होगी कि बल्लेबाज पर अंकुश कैसे लगाया जाए। इसके अलावा हमें अपनी बल्लेबाजी में भी सुधार करना होगा।

पाकिस्तान ने आज 11 गेंद शेष रहते हुए चार विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल किया और मिसबाह ने कहा कि इससे उनकी टीम का मनोबल बढ़ेगा।
उन्होंने कहा कि यह मैच जीतना काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि पहला मैच हमेशा अहम होता है और यह तीन मैचों की सीरीज है। इसलिए जब भी आप पहला मैच जीतते हो तो इससे मनोबल बढ़ता है और आप दूसरी टीम से बेहतर स्थिति में आ जाते हो।


नासिर जमशेद ने नाबाद 101 रन बनाये लेकिन भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी को उनकी दबाव में खेली गई 113 रन की पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। मिसबाह से जब मैन ऑफ द मैच पुरस्कार के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैन ऑफ द मैच का फैसला ज्यूरी करती है। एक समय लग रहा था कि भारत 125 रन पर आउट हो जाएगा लेकिन धौनी ने बेहतरीन पारी खेली। उन्होंने कहा कि नासिर और यूनिस खान ने भी हमारी तरफ से शानदार बल्लेबाजी की लेकिन मैं अजहर का भी खास तौर पर जिक्र करना चाहूंगा। पहले छह ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने शानदार गेंदबाजी की। वह गेंद को काफी स्विंग करा रहा था। ऐसे में शुरुआती 10-12 ओवर खेलना अहम था। इससे हमारी जीत की नींव रखी गई। उसके बाद यूनिस ने अपने अनुभव का इस्तेमाल किया।

मिसबाह ने कहा कि बाद में जमशेद और मलिक ने जिस तरह से रन गति बढ़ाई और अच्छी साझेदारी की, वह मैच का टर्निंग प्वाइंट रहा।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingकोलंबो टेस्ट: पुजारा के शतक से संभला भारत
आठ महीने बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी कर रहे सलामी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के अनुशासित और धैर्यपूर्ण शतक और अमित मिश्रा के साथ उनकी रिकार्ड साझेदारी की मदद से भारत ने विषम परिस्थितियों से उबरते हुए श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के बारिश से प्रभावित दूसरे दिन पहली पारी में आठ विकेट पर 292 रन बनाए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!