रविवार, 23 नवम्बर, 2014 | 16:26 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
सोनिया : गुजरात में कुपोषण की चर्चा नहींअच्छे दिन के लुभावने नारे दिये : सोनियासोनिया : भाजपा अधिकार छीन रही हैहम सबको साथ लेकर चलते हैं : सोनियासोनिया गांधी ने कहा, आज भी झारखंड में अंधेरा हैआज चुनाव प्रचार का आखिरी दिनझारखंड के गुमला में सोनिया गांधी की रैली
कप्तानों ने इशांत,अकमल के बीच बहस को तवज्जो नहीं दी
बेंगलुरू, एजेंसी First Published:26-12-12 01:05 PM
Image Loading

भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा और पाकिस्तान के बल्लेबाज कामरान अकमल के बीच पहले टी20 क्रिकेट मैच के दौरान यहां हुई बहस को अधिक तूल नहीं देते हुए दोनों टीमों के कप्तानों ने कहा कि यह मामूली बहस थी जिसका अंत दोनों के चेहरों पर मुसकान के साथ हुआ।
     
मंगलवार हुए इस मैच में इशांत और अकमल को तीखी बहस करते हुए दिखाया गया और अंपायरों ने बीच बचाव करते हुए इन्हें अलग किया। पाकिस्तान ने यह मैच पांच विकेट से जीता। यह बहस उस समय हुई जब अकमल को नोबाल पर कैच आउट होने के बाद नॉटआउट करार दिया गया जबकि अगली गेंद ने भी उन्हें परेशानी में डाला।
     
इसके तुरंत बाद दोनों खिलाड़ियों ने एक दूसरे को गुस्से में कुछ कहा और एक दूसरे को अंगुली भी दिखाई। अंत में मैदानी अंपायरों और भारतीय खिलाड़ियों ने बीच बचाव करते हुए दोनों को अलग किया।
     
भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने कहा कि यह दोनों के बीच कुल गलतफहमी के कारण हुआ। गेंदबाज ने कुछ और कहा जबकि बल्लेबाज ने कुछ और समझा। मुझे खुशी है कि इशांत ने बल्लेबाज को अपशब्द नहीं कहे। हम इन चीजों पर नजर रखने की कोशिश करेंगे।  

पाकिस्तान के कप्तान मोहम्मद हफीज ने कहा कि खिलाड़ियों ने इस मुद्दे को मैदान पर ही भुला दिया। उन्होंने कहा कि हम यहां प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खेलने आए हैं और इस तरह की घटनाएं होती हैं। यह खेल का हिस्सा है। हालांकि इशांत और अकमल ने एक दूसरे की तरफ देखकर मुस्कुराते हुए मैदान पर ही इस मुद्दे का अंत कर दिया।
     
इन दोनों के बीच बहस के अलावा भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर और पाकिस्तान तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान को भी एक दूसरे को आंखे दिखाते हुए देखा गया।

 
 
 
टिप्पणियाँ