रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 19:27 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
डेक्कन चार्जर्स को मिली दूसरी जीत
कटक, एजेंसी First Published:01-05-2012 07:16:04 PMLast Updated:01-05-2012 08:33:43 PM
Image Loading

कैमरून व्हाइट (74) और कप्तान कुमार संगकारा (82) की विस्फोटक पारियों और उनके बीच 157 रन की साझेदारी से डेक्कन चार्जर्स हैदराबाद ने पुणे वारियर्स को आईपीएल पांच के मुकाबले में 13 रन से हराकर टूर्नामेंट में अपनी दूसरी जीत का स्वाद चखा।

डेक्कन ने चार विकेट पर 186 रन का मजबूत स्कोर बनाने के बाद पुणे को पांच विकेट पर 173 रन के स्कोर पर रोक दिया। डेक्कन की नौ मैचों के यह दूसरी जीत है और अब उसके पांच अंक हो गए हैं जबकि पुणे को दस मैचों में छठी हार का सामना करना पडा है और वह आठ अंकों के साथ तालिका में सातवें स्थान पर है।

पुणे के लिए कप्तान सौरभ गांगुली ने 45, टीम के आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी माइकल क्लार्क ने 41, स्टीवन स्मिथ ने नाबाद 47 और रोबिन उथप्पा ने 26 रन की पारियां खेली मगर वारियर्स लक्ष्य से दूर रह गए। डेक्कन के लिए अंकित शर्मा, वीर प्रताप सिंह, आशीष रेड्डी और शिखर धवन ने एक-एक विकेट लिया।

इससे पहले संगकारा ने 52 गेंद में 82 रन की शानदार पारी खेलकर फार्म में वापसी की जिसमें 10 चौके और दो छक्के जड़े थे। उन्होंने तीसरे विकेट के लिए व्हाइट (45 गेंद में चार चौके और इतने ही छक्के से 74 रन) के साथ 157 रन की भागीदारी निभाई जिससे टीम यह विशाल स्कोर बनाने में सफल रही। यह आईपीएल के इतिहास में तीसरे विकेट के लिए सर्वश्रेष्ठ साझेदारी भी है।
 
चौदह ओवर बाद टीम का स्कोर 91 रन था लेकिन इसके बाद संगकारा और व्हाइट ने पुणे वारियर्स के गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाकर अंतिम छह ओवरों में 95 रन जुटाए। 18वां और 19वां ओवर महत्वपूर्ण रहा जिसमें संगकारा और व्हाइट ने 25-25 रन बटोरे। पुणे वारियर्स के कप्तान सौरव गांगुली के ओवर और टीम के 18वें ओवर में 25 रन ने चार्जर्स की पारी का रुख बदल दिया।

टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी डेक्कन चार्जर्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही क्योंकि मार्लोन सैमुअल्स ने मैच की पहली गेंद पर पार्थिव पटेल का विकेट झटक लिया। वायने पार्नेल ने मेडन ओवर फेंककर पुणे को अच्छी शुरुआत कराई। मेजबान टीम के लिए चीजें और खराब हो गई जब भुवनेश्वर कुमार ने शिखर धवन (13) को पवेलियन भेजा जिन्होंने सैमुअल्स की गेंदों पर दो चौके जमाकर फार्म में आना शुरू ही किया था।
 
अगले ही ओवर में चार्जर्स तीसरा विकेट गंवा देती जब विकेटकीपर रोबिन उथप्पा ने पार्नेल की गेंद पर व्हाइट का कैच छोड़ दिया। व्हाइट इस जीवनदान का फायदा उठाते हुए संगकारा के साथ सतर्कता से खेले और 10 ओवर बाद टीम का स्कोर दो विकेट पर 58 रन था।

इन दोनों ने लूज गेंदों पर चौके और छक्के तो जमाए लेकिन पारी की रन गति को बढ़ा नहीं सके। 14वें ओवर तक स्कोर 91 रन था, लेकिन संगकारा ने अचानक ही रुख पलटते हुए सैमुअल्स के ओवर में चार चौके से 19 रन जुटाये और टीम ने 100 रन पूरे किए।

पार्नेल के अगले ओवर में 12 रन बने। व्हाइट ने भी इस आक्रामकता में संगकारा का साथ निभाया और गांगुली के ओवर में लगातार तीन छक्के और एक चौके से 25 रन बने जिससे टीम प्रतिस्पर्धी स्कोर बनाने की ओर अग्रसर थी। नेहरा के अगले ओवर में भी 25 रन बने, लेकिन संगकारा अंतिम गेंद पर पवेलियन लौट गए। गांगुली और नेहरा के सात ओवरों में 80 बने। व्हाइट अंतिम ओवर की पहली गेंद पर आउट हुए।

 

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingकोलंबो टेस्ट: भारत को 132 रनों की बढ़त
इशांत शर्मा ( 54 रन पर पांच विकेट) की घातक गेंदबाजी और इससे पहले ओपनर चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 145) रन के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने यहां तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को अपना शिकंजा कसते हुये मेजबान श्रीलंका के खिलाफ 111 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

सीसीटीवी कैमरों का जमाना है...
पिता: एक समय था, जब मैं 10 रुपए में किराना, दूध, सब्जी और नाश्ता ले आता था..
बेटा: अब संभव नहीं है, पापा अब वहां सीसीटीवी कैमरे लगे होते हैं।