बुधवार, 26 नवम्बर, 2014 | 14:13 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
रणजी ट्राफी में प्रदर्शन कभी खराब नहीं जाता: अवाना
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:09-12-12 08:39 PM
Image Loading

करीब नौ साल पहले 18 वर्षीय परविंदर अवाना और 19 वर्षीय अशोक डिंडा ने बेहतर जिंदगी के लिए एक चैनल के स्पीडसटर प्रतियोगिता में भाग लेने का फैसला किया था।

अवाना ने बेंगलूर से कहा कि मैं स्पीडसटर प्रतियोगिता में पहले स्थान पर जबकि डिंडा दूसरे स्थान पर आया था। हमें उम्र के हिसाब से होने वाले क्रिकेट का भी अनुभव नहीं था। यह शुरुआत थी और अब हम दोनों एक ही भारतीय ड्रेसिंग रूम साझा करेंगे। यह मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा क्षण है लेकिन क्या मैंने इस दिन के लिए कड़ी मेहनत नहीं की।

उन्होंने कहा कि मैं आज 42 रन पर बल्लेबाजी कर रहा था और 12वां खिलाड़ी यह खबर देने के लिए मेरे पास आया। इससे राहत मिली और मैंने खुशी से अपने गियर तुरंत बदल लिए।

 
 
 
टिप्पणियाँ