रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 19:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
उत्तराखंड: हरिद्वार में तेज रफ्तार कार से पुलिसवालों को कुचलने की कोशिश। पुलिस ने तेज रफ्तार कार को की थी रोकने की कोशिश।बरेली: भाजपा के प्रशिक्षण शिविर में आतंकवाद-राष्ट्रवाद पर मंथन।बरेली: वैज्ञानिक डा. दीपक हत्याकांड में रिसर्च स्टूडेंट से पूछताछ। क्राइम ब्रांच ने शक के दायरे में लिए गए कुछ वैज्ञानिक।
विश्वनाथ ने पूछा, गांगुली राष्ट्रीय कोच क्यों नहीं बन सकता
कोलकाता, एजेंसी First Published:02-01-2013 10:04:12 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

पूर्व भारतीय कप्तान गुंडप्पा विश्वनाथ का मानना है कि सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कोच डंकन फ्लेचर की जगह लेने के लिए आदर्श उम्मीदवार हैं। ईडन गार्डंस पर भारत-पाक मैच के 25 बरस पूरे होने पर बंगाल क्रिकेट संघ द्वारा आयोजित सम्मान समारोह के हिस्से के तौर पर कोलकाता आए विश्वनाथ ने कहा कि अगर गैरी कर्स्टन भारतीय कोच बन सकता है तो गांगुली क्यों नहीं। लेकिन इस मुददे पर फैसला बीसीसीआई और गांगुली को करना है।

अपने समय के दिग्गज बल्लेबाजों में शामिल रहे विश्वनाथ ने भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का भी बचाव किया। उन्होंने कहा कि पिछली दो सीरीज (तीन टेस्ट सीरीजों) को छोड़ दिया जाए तो उसका रिकार्ड काफी अच्छा है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक टीम बुरे दौर से गुजरती है। हमने देखा कि वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के साथ भी ऐसा हुआ। कुछ टीमों को वापसी करने में समय लगता है। यह खेल का हिस्सा है और भारत इस दौर से गुजर रहा है। इससे पहले उन्होंने कलकत्ता मेडिकल रिसर्च इंस्टीटयूट में एक बैड का उद्घाटन किया जो विशेष तौर पर बंगाल के प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों के लिए होगा।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingMCA ने शाहरुख के वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश करने से बैन हटाया
मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने अभिनेता शाहरुख खान पर वानखेड़े स्टेडियम में घुसने पर लगा प्रतिबंध हटा लिया है। एमसीए के उपाध्यक्ष आशीष शेलार के मुताबिक एमसीए ने यह फैसला रविवार को हुई मैनेजिंग कमेटी की बैठक में लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?