गुरुवार, 24 जुलाई, 2014 | 03:56 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    ताइवान में विमान दुर्घटनाग्रस्त, 51 लोगों की मौत, सात घायल  दिमागी बुखार से बंगाल में अब तक 105 की मौत नक्सल क्षेत्रों में ट्रेनों को लेकर बढ़ेगी चौकसी  स्कूलों में मेल, फिमेल के बाद अब ट्रांसजेंडर भी राष्ट्रीय कर न्यायाधिकरण कानून में तमाम खामियां: कोर्ट  महाराष्ट्र चुनाव से पहले कांग्रेस ने की विदर्भ की मांग राष्ट्रीय कर न्यायाधिकरण कानून में तमाम खामियां: कोर्ट  जांच आयोगों की अवमानना नहीं हो सकती: सुप्रीम कोर्ट  विदेशी धन लेने के मामले में कांग्रेस पहुंची सुप्रीम कोर्ट  पता नहीं था कैंटीन कर्मचारी मुस्लिम है: शिवसेना सांसद
 
भारत की हार में अंपायर के फैसलों की भी भूमिका
चेन्नई, एजेंसी
First Published:30-12-12 08:24 PM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

भारतीय अंपायर एस रवि के कुछ विवादास्पद फैसलों की भी रविवार को पहले वनडे मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के हाथों भारत की छह विकेट की हार में अहम भूमिका रही। न्यूजीलैंड के बिली बोडेन और एस रवि आज के मैच के मैदानी अंपायर थे और सीरीज के पहले मैच में भारतीय अंपायर के कुछ फैसले मेजबान टीम के खिलाफ गए। भारत ने इससे पहले गेंदबाजी के अनुकूल हालात में टास गंवा दिया था।

भारत को रवि की खराब अंपायरिंग का सामना सबसे पहले पाकिस्तान की पारी के 18वें ओवर में करना पड़ा। आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन गेंद करा रहे थे। उनकी पहली गेंद शतकवीर नासिर जमशेद के बल्ले का किनारा लेने के बाद पैड से टकराते हुए पहली स्लिप में वीरेंद्र सहवाग ने पास पहुंची जिन्होंने इसे लपक लिया। भारतीयों ने पहले पगबाधा और फिर कैच की अपील की लेकिन रवि ने इसे ठुकरा दिया। इस समय जमशेद 24 रन बनाकर खेल रहे थे।

अश्विन ने इसके बाद पारी के 28वें ओवर में यूनिस खान के खिलाफ भी पगबाधा की विश्वनीय अपील की लेकिन इस बार भी रवि का फैसला भारतीयों के खिलाफ गया। जमशेद ने इसके बाद नाबाद 101 रन की पारी खेली जबकि यूनिस ने 58 रन बनाए। दोनों ने उस समय तीसरे विकेट के लिए 112 रन की साझेदारी की जब टीम 21 रन पर दो विकेट गंवा चुकी थी।

हाल के समय में भारतीय अंपायर उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं और यही कारण है कि आईसीसी के एलीट पैनल में कोई भारतीय अंपायर नहीं है। पूर्व भारतीय कप्तान एस वेंकटराघवन एलीट पैनल में शामिल अंतिम भारतीय अंपायर थे लेकिन उनके संन्यास के बाद कोई भारतीय इस सूची में जगह नहीं बना पाया है। आईसीसी के अंतरराष्ट्रीय पैनल में चार भारतीय अंपायर शामिल हैं जो रवि के अलावा सुधीर असनानी, विनीत कुलकर्णी और सी शमसुद्दीन हैं।

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
टिप्पणियाँ
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°