रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 11:48 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बिहार के जमुई में दीवार गिरने से दो लोगों की मौतयूपी के संभल में पुलिस हिरासत में लिए गए युवक की मौत। युवक का शव घर के पास एक खेत में मिला। गुस्साए परिजनों ने संभल-मुरादाबाद मार्ग पर लगाया जाम, हंगामा जारी। कई थानों की पुलिस को मौके पर।
कंपकंपाती ठंड में भी दिखा दर्शकों का जोश
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-2013 02:50:00 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

मुकाबला जब भारत और पाकिस्तान का हो तो फिर कंपकंपाती ठंड और सर्द हवा भी क्रिकेट प्रेमियों का जोश कम नहीं कर सकती। इसका खूबसूरत नजारा आज यहां फिरोजशाह कोटला में देखने को मिला।

भारत सीरीज़ हार चुका है और दिल्ली में सुबह का तापमान 1.9 डिग्री था फिर भी भारत और पाकिस्तान के बीच तीसरे और आखिरी वनडे मैच के लिये 48 हजार की क्षमता वाला स्टेडियम लगभग भरा हुआ था। भारतीय टीम लगातार दो मैच हारने से भले ही हताश हो लेकिन दर्शकों में पूरा जोश था।

मैच जब दोपहर 12 बजे शुरू हुआ तब स्टेडियम का न्यूनतम तापमान छह डिग्री और अधिकतम 11 डिग्री था लेकिन दर्शक सुबह से लंबी कतारों में खड़े हो गये थे। पुलिस ने सुबह नौ बजे स्टेडियम के गेट खोले लेकिन दर्शकों को कड़ी सुरक्षा जांच से गुजरने के बाद ही स्टेडियम में प्रवेश मिला। हालांकि मैच शुरू होने तक स्टेडियम भर चुका था। 

वीरेंद्र सहवाग के अंतिम एकादश में नहीं होने से दर्शक निराश थे लेकिन इससे उनका उत्साह कम नहीं हुआ। विराट कोहली का क्रीज पर उतरने के बाद जबर्दस्त स्वागत किया गया। लेकिन वह जल्द ही पवेलियन लौटकर स्टेडियम को सन्न कर गये। दिल्ली के दूसरे शहजादे गौतम गंभीर भी केवल 15 रन ही बना पाये।

मैच के लिये कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गयी थी। दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त उपायुक्त देवेश श्रीवास्तव ने कहा कि किसी अन्य मैच की तुलना में इस मैच के लिये अधिक कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गयी है। स्टेडियम के अंदर बाहर 1200 पुलिसकर्मी तैनात हैं। इसके अलावा 300 पुलिसकर्मी सादी वर्दी में स्टेडियम के अंदर दर्शकों के बीच तैनात किये गये हैं।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआक्रामक शैली बरकरार रखें कोहली: द्रविड़
राहुल द्रविड़ को बतौर टेस्ट कप्तान श्रीलंका में पहली पूर्ण सीरीज खेलने जा रहे विराट कोहली के कामयाब रहने का यकीन है और उन्होंने कहा कि कोहली को अपनी आक्रामक शैली नहीं छोड़नी चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?