गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 22:12 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    शिक्षा को लेकर मोदी सरकार पर आरएसएस का दबाव कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं कालेधन मामले में सभी दोषियों की खबर लेगा एसआईटी: शाह एनसीपी के समर्थन देने पर शिवसेना ने उठाये सवाल 'कम उम्र के लोगों की इबोला से कम मौतें'  स्वामी के खिलाफ मानहानि मामले की सुनवाई पर रोक
श्रीकांत ने स्पिन तिकड़ी को बरकरार रखने का समर्थन किया
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:27-11-12 10:31 PM
Image Loading

राष्ट्रीय क्रिकेट चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष कृष्णमाचारी श्रीकांत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट के लिए भारतीय टीम में आर अश्विन, प्रज्ञान ओझा और हरभजन सिंह की तिकड़ी को बरकरार रखने के फैसले का बचाव किया।

अश्विन, ओझा और हरभजन की तिकड़ी के खिलाफ इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने आसानी से रन बटोरे थे और मेहमान टीम वानखेड़े स्टेडियम की स्पिन की अनुकूल पिच पर 10 विकेट से जीत दर्ज करने में सफल रही थी। श्रीकांत ने कहा कि किसी भी खिलाड़ी को सिर्फ एक खराब प्रदर्शन के आधार पर टीम से बाहर नहीं किया जाना चाहिए।

यह पूछने पर कि क्या टीम में लेग स्पिनर को शामिल करने से अधिक विविधता आती, श्रीकांत ने सीएनएन आईबीएन से कहा कि टीम में लेग स्पिनर का शामिल होना बेहतरीन होता लेकिन आप सिर्फ एक मैच के आधार पर किसी को बाहर नहीं कर सकते। उसे उचित मौका मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि हरभजन सिंह ने एक साल के बाद टीम में वापसी की है। हम सिर्फ एक पारी के आधार पर उसे बाहर नहीं कर सकते। सभी को पता है कि उसने अभी अपनी पुरानी फार्म हासिल नहीं की है और उसे कुछ और समय देने की जरूरत है।

 
 
 
टिप्पणियाँ