शनिवार, 29 अगस्त, 2015 | 14:51 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
देश तानाशाही की ओर जा रहा है, यह बिहार का चुनाव नहीं पूरे देश को बचाने का चुनाव है: लालू।लालू यादव ने सपा को 5 सीट देने की घोषणा की।उत्तराखंडः रुड़की के मोहनपुरा फाटक के पास टैंकर और बाइक की टक्कर, बाइक सवार महिला की मौत, पति घायल।झारखंड: रांची में डीपीएस स्कूल के पास ट्रेन से कटकर एक व्यक्ति की मौत।
और उपाय करे पाक: आईसीसी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-2013 07:10:35 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

आईसीसी का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय टीमों की मेजबानी के लिए पाकिस्तान को और इंतजार करना होगा। उसने यह भी कहा कि विदेशी टीमों का विश्वास हासिल करने के लिए पाकिस्तान को और सुरक्षा उपाय करने होंगे।

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन ने कहा कि अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मैचों की मेजबानी के लिये महफूज है या नहीं। उन्होंने कहा कि हमें सुरक्षा अधिकारियों से पूछना होगा कि यह सुरक्षित है या नहीं। पाकिस्तान में हालात कठिन हैं और अंतरराष्ट्रीय टीमों को वहां का दौरा करने के लिए मनाना आसान नहीं होगा। अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि पाकिस्तान का दौरा करना सुरक्षित है या नहीं।

मार्च 2009 में लाहौर में श्रीलंकाई टीम की बस पर हुए हमले के बाद किसी टेस्ट टीम ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया है। पाकिस्तान बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को संक्षिप्त दौरे के लिए टीम भेजने को मनाने की कोशिश कर रहा था। बांग्लादेश ने हाल ही में जनवरी में पाकिस्तान का दौरा सुरक्षा कारणों से रद्द कर दिया। आईसीसी के इस बयान से पाकिस्तान में निकट भविष्य में कोई अंतरराष्ट्रीय सीरीज होना और कठिन हो गया है। भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट संबंधों की बहाली से खुश रिचर्डसन ने कहा कि दोनों देशों को नियमित आधार पर एक दूसरे के खिलाफ खेलना चाहिए।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingLIVE: भारत को 7वां झटका, आर. अश्विन आउट
भारतीय क्रिकेट टीम ने शनिवार को सिन्हलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ तीसरे निर्णायक टेस्ट में बल्लेबाजी करते हुए अपना 7वां विकेट गंवा दिया।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब जय की हुई जमकर पिटाई...
वीरू (जय से): कल तुझे मेरे मोहल्ले के दस लड़कों ने बहुत बुरी तरह पीटा। फिर तूने क्या किया?
जय: मैंने उन सभी से कहा कि कि अगर हिम्मत है, तो अकेले-अकेले आओ।
वीरू: फिर क्या हुआ?
जय: होना क्या था, उसके बाद उन सबने एक-एक करके फिर से मुझे पीटा।