शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 17:34 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
विद्या प्रकाश ठाकुर ने भी राज्यमंत्री पद की शपथ लीदिलीप कांबले ने ली राज्यमंत्री पद की शपथविष्णु सावरा ने ली मंत्री पद की शपथपंकजा गोपीनाथ मुंडे ने ली मंत्री पद की शपथचंद्रकांत पाटिल ने ली मंत्री पद की शपथप्रकाश मंसूभाई मेहता ने ली मंत्री पद की शपथविनोद तावड़े ने मंत्री पद की शपथ लीसुधीर मुनघंटीवार ने मंत्री पद की शपथ लीएकनाथ खड़से ने मंत्री पद की शपथ लीदेवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
रिचड्र्स और सहवाग के क्लब में पहुंचे कुक
कोलकाता, एजेंसी First Published:07-12-12 05:31 PM
Image Loading

इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टेयर कुक भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में शुक्रवार को यहां 190 रन पर आउट होने के कारण विवियन रिचड्र्स और वीरेंद्र सहवाग के विशिष्ट क्लब में शामिल हो गए।

टेस्ट क्रिकेट में रिचड्र्स, सहवाग और कुक केवल तीन बल्लेबाज ही ऐसे हैं जो 90, 190 और 290 रन या उससे पार पहुंचने के बावजूद क्रमश: शतक, दोहरा शतक और तिहरा शतक पूरा नहीं कर पाए।

कुक पिछले साल बर्मिंघम में भारत के खिलाफ 294 रन बनाकर आउट हुए थे। वह अब तक पांच बार नर्वस नाइंटीज के शिकार भी बन चुके हैं। रिचड्र्स 1976 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में 291 रन बनाकर पवेलियन लौटे थे। वह भारत के खिलाफ 1984 में 192 रन बनाकर नाबाद रहे।

इसके अलावा तीन अवसरों पर वह 90 रन के पार पहुंचने के बाद आउट हुए। इन तीनों में केवल सहवाग ही ऐसे बल्लेबाज हैं जो दो तिहरे शतक जड़ चुके हैं। यह भारतीय बल्लेबाज हालांकि श्रीलंका के खिलाफ 2009 में मुंबई में 293 रन बनाकर आउट हुआ था।

उन्होंने 2003 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में 195 रन बनाए थे। सहवाग इसके अलावा पांच बार नर्वस नाइंटीज के शिकार बने हैं। कुक रन आउट होकर पवेलियन लौटे। वह इस तरह से अपने प्रथम श्रेणी करियर में पहली बार रन आउट हुए। कुक की यह प्रथम श्रेणी मैचों में 312 वीं पारी थी। टेस्ट मैचों में उनकी 151 वीं पारी थी। अपने टेस्ट करियर में कभी रन आउट नहीं होने का रिकॉर्ड पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव (184 पारियां) के नाम पर है।

कुक 190 या इससे अधिक के निजी स्कोर पर रन आउट होने वाले दुनिया के चौथे बल्लेबाज हैं। उनसे पहले यूनिस खान (199), गैरी सोबर्स (198) और आर्थर मौरिस (196) भी रन आउट होने के कारण दोहरा शतक पूरा नहीं कर पाये। इनमें से यूनिस और सोबर्स भारत के खिलाफ ही रन आउट हुए थे।

कुक इस श्रृंखला में अब तक 547 रन बना चुके हैं। वह केन बैरिंगटन (594) और माइक गैटिंग (575) रन के बाद भारतीय सरजमीं पर यह कारनामा करने वाले तीसरे इंग्लिश बल्लेबाज हैं। इंग्लैंड ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक छह विकेट पर 509 रन बनाए हैं।

यह चौथा और पिछले 28 साल में पहला अवसर है जबकि इंग्लैंड की टीम ने भारतीय सरजमीं पर 500 से अधिक रन बनाए। उसने इससे पहले आखिरी बार 1985 में चेन्नई में सात विकेट पर 652 रन बनाकर पारी समाप्त घोषित की थी। इंग्लैंड का यह ईडन गार्डन्स पर सर्वाधिक स्कोर भी है। इससे पहले उसने 1934 में यहां 403 रन बनाए थे।

इंग्लैंड के चोटी के चार बल्लेबाजों कुक, निक काम्पटन (57), जोनाथन ट्राट (87) और केविन पीटरसन (54) ने अर्धशतक बनाए।

यह चौथा अवसर है जबकि इंग्लैंड के शीर्ष चार बल्लेबाजों ने भारतीय सरजमीं पर 50 या इससे अधिक का स्कोर खड़ा किया। ट्राट ने आज अपनी पारी के दौरान टेस्ट क्रिकेट में बिना छक्के लगाये सर्वाधिक गेंद खेलने का रिकॉर्ड अपने नाम किया। अपना 37वां मैच खेल रहे ट्राट ने अब तक टेस्ट क्रिकेट में 5902 गेंद खेली हैं लेकिन अभी तक उनके नाम पर छक्का दर्ज नहीं है। उन्होंने हमवतन क्रिस तवारे (5735 गेंद) का रिकॉर्ड तोड़ा।


 

 
 
 
टिप्पणियाँ