मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 00:38 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अगला बिहार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी राबड़ी देवी कांवड़ यात्रा से बरेली के कई पंपों पर डीजल-पेट्रोल खत्‍म  आखिर यूं ही नहीं बनती 'बाहुबली', जानिए 10 बेहद खास राज  भारत से प्रभावित होकर अंग्रेजों ने ब्रिटेन में भी बसा दिया 'पटना'  तृणमूल ने दिखाई कांग्रेस के साथ एकजुटता, लोकसभा की कार्यवाही का पांच दिनों तक करेगी बहिष्कार 14 साल से पाकिस्तान में फंसी भारतीय लड़की को बजरंगी भाईजान की जरूरत श्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान राफेल नडाल ने जीता हैम्बर्ग ओपन खिताब चेल्सी बीते सत्र में ही ईपीएल खिताब का हकदार था: कोम्पेनी साध्वी प्राची को अस्पताल से डिस्चार्ज किए जाने पर हंगामा
क्यूरेटर प्रबीर काम पर लौटेंगे
कोलकाता, एजेंसी First Published:01-12-2012 09:49:33 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

ईडन गार्डन की पिच तैयार करने को लेकर उपजे विवाद के बाद एक महीने के लिए छुट्टी पर जाने की घोषणा करने के बाद अनुभवी क्यूरेटर प्रबीर मुखर्जी ने काम पर वापस आना स्वीकार कर लिया है। मुखर्जी ने यह फैसला क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (सीएबी) के अध्यक्ष जगमोहन डालमिया के साथ बैठक के बाद लिया।

ज्ञात हो कि भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट मैच पांच दिसम्बर से ईडन गार्डन में खेला जाएगा। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने क्यूरेटर से टर्निग विकेट की मांग की थी। धौनी ने कहा था कि उन्हें ऐसी विकेट दी जाए जहां गेंद पहले ही दिन से टर्न हो।

इसके बाद मुखर्जी ने डालमिया को पत्र लिखकर स्वास्थ्य कारणों से एक महीने की छुट्टी मांगी थी। उन्होंने धौनी की उस मांग को अनैतिक एवं अव्यहारिक करार दिया जिसमें पहले ही दिन से टर्निग विकेट की मांग की गई थी।

डालमिया ने पत्रकारों से कहा, ‘यह बैठक सफल रही। वह ईडन का कार्यभार सम्भाले रहेंगे। मेरे विचार से कोई मुद्दा नहीं था। कुछ गलतफहमियां थीं। मेरे ख्याल में हम लोग अनावश्यक मुद्दा बना रहे हैं।’ डालमिया ने मुखर्जी के पत्र का विवरण देने से इंकार कर दिया।

उन्होंने कहा कि मुखर्जी प्रति दिन ईडन जाकर पिच की तैयारियों का जायजा लेंगे लेकिन उन्हें मीडिया से दूर रहने के लिए कहा गया है। डालमिया ने कहा, ‘यद्यपि वह रोज जाएंगे लेकिन स्वास्थ्य कारणों से शायद वह 14 से 16 घंटे काम करने में सक्षम न हों। मैंने उन्हें मीडिया से बात नहीं करने के लिए कहा है।’

डालमिया ने इस मामले को जल्द सुलझाने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से किसी भी प्रकार के दबाव के पड़ने से इंकार किया। मुखर्जी ने शनिवार को मीडिया से कहा था, ‘शुक्रवार शाम मैं अच्छा महसूस नहीं कर रहा था। मुझे उच्च रक्तचाप था। डॉक्टरों ने मुझे एक महीने आराम करने की सलाह दी है। छह महीने पहले मैंने अपनी बेटी और पत्नी को खो दिया। मेरे घर की स्थिति ठीक नहीं है।’

प्रबीर ने कहा, ‘धौनी ने खुलेआम कहा था कि उन्हें टर्निग विकेट चाहिए जहां गेंद पहले ही दिन से टर्न करे। यह अनैतिक है। आप (आयोजनकर्ता) पांच दिन (टेस्ट मैच) के लिए पैसा लेते हैं लेकिन धौनी टर्निग विकेट मांग रहे थे जहां तीन दिन में ही टेस्ट मैच खत्म हो जाएगा।’ उन्होंने कहा, ‘यह अनैतिक और कप्तान की पसंद के अनुसार पिच के साथ छेड़छाड़ विसंगत है। मैंने अपने जीवन में ऐसा कभी नहीं किया। इसलिए मैं इससे छुटकारा पाना चाहता हूं।’

प्रबीर लगभग 15 वर्ष से ईडन की पिच तैयार करते आए हैं। बकौल प्रबीर, ‘आप अनुबंध पर हैं और आपको अच्छी क्रिकेट खेलने के लिए बोर्ड से करोड़ों रुपये मिलते हैं। अनुबंध ऐसा करने की इजाजत नहीं देता।’ धौनी ने मुम्बई जैसी पिच ईडन में भी मांग की थी। मुम्बई में खेले गए सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने भारत को 10 विकेट से पराजित किया था।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान
टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?