गुरुवार, 23 अक्टूबर, 2014 | 06:07 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
डु प्लेसिस और मोर्कल के धमाल से चेन्नई जीता
चेन्नई, एजेंसी First Published:12-04-12 06:38 PMLast Updated:12-04-12 11:36 PM
Image Loading

ओपनर फाफ डु प्लेसिस के 71 रन के बाद एल्बी मोर्कल की सात गेंद में 28 रन की मनोरंजक पारी से चेन्नई सुपरकिंग्स ने गुरुवार को आईपीएल के रोमांचक मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर को पांच विकेट से शिकस्त दी।

क्रिस गेल की 66 रन की आक्रामक पारी और विराट कोहली (57) के साथ 109 रन की साझेदारी से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर ने आठ विकेट पर 205 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया जो इस आईपीएल सत्र में अब तक का सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी है।
 
इसके जवाब में चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम मैन ऑफ द मैच डु प्लेसिस की 46 गेंद में पांच चौके और चार छक्के से जड़ित 71 रन की पारी और अंत में एल्बी मोर्कल के सात गेंद में तेजी से बटोरे गए 28 रन से 20 ओवर में पांच विकेट पर 208 रन बनाकर जीत गई।
 
मैच के अंतिम तीन ओवर दर्शकों के लिए काफी रोमांचक रहे जो मैच का टर्निंग प्वाइंट भी थे। इसमें आरसीबी के कप्तान डेनियल विटोरी का कोहली को अंत में गेंदबाजी कराने का फैसला उन्हें हार दिलाने में अहम रहा। कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने 24 गेंद में दो छक्के और एक चौके से 41 रन बनाकर टीम को इस लक्ष्य की ओर ले जाने की कोशिश की लेकिन टीम को जीत के लिए अंतिम तीन ओवर में 50 रन चाहिए थे जो असंभव दिख रहा था। धौनी 18वें ओवर की अंतिम गेंद पर जहीर खान को विकेट दे बैठे।
 
इसके बाद एल्बी मोर्कल क्रीज पर उतरे और तब टीम को 12 गेंद में 43 रन की जरूरत थी। मोर्कल ने विराट कोहली के दूसरे और टीम के 19वें ओवर में तीन छक्के, दो चौके और दो रन से 28 रन जोड़े। अब टीम को अंतिम ओवर में 15 रन की दरकार थी।

इससे पहले चेन्नई के गेंदबाजों के पास गेल को रोकने का उपाय नहीं था और वेस्टइंडीज के इस खिलाड़ी ने 35 गेंद में मैदान के चारों ओर छह छक्के तथा दो चौके से यह आक्रामक अर्धशतक जड़ा। कोहली ने भी संयम से खेलते हुए 46 गेंद में 57 रन बनाए जिसमें पांच चौके और दो छक्के जड़े थे।
 
पेसर डग बोलिंजर चेन्नई के लिए सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने अंतिम ओवर में तीन विकेट चटकाए। बोलिंजर ने कोहली, चेतेश्वर पुजारा (0) और राजू भटकल (0) को आउट किया।

इस तरह बेंगलूर ने अपने चार विकेट महज सात रन पर गंवा दिये जिसमें अंतिम गेंद पर एक छक्का भी शामिल था। इस विशाल स्कोर की नींव मयंक अग्रवाल ने रखी जिन्होंने 26 गेंद में 45 रन बनाए। इसमें उन्हें स्पिनर आर अश्विन के तीसरे ओवर में जीवनदान भी मिला।
 

 
 
 
 
टिप्पणियाँ