गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 23:48 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    नौकरानी की हत्या: धनंजय को जमानत, जागृति के रिकार्ड मांगे अमर सिंह के समाजवादी पार्टी में प्रवेश पर उठेगा पर्दा योगी आदित्य नाथ ने दी उमा भारती को चुनौती देश में मौजूद कालेधन पर रखें नजर : अरुण जेटली शिक्षा को लेकर मोदी सरकार पर आरएसएस का दबाव कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं
सिडनी टेस्ट के बाद क्रिकेट को अलविदा कहेंगे हसी
सिडनी, एजेंसी First Published:29-12-12 03:11 PM
Image Loading

ऑस्ट्रेलिया के मध्यक्रम के बल्लेबाज माइक हसी ने शनिवार को कहा कि वह श्रीलंका के खिलाफ तीन जनवरी से यहां होने वाले तीसरे टेस्ट के बाद टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। सिडनी टेस्ट उनका 79वां और आखिरी टेस्ट होगा। उन्होंने 30 बरस की उम्र में पहला टेस्ट खेला था। वह ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज और श्रीलंका के बीच ट्राई वनडे सीरीज़ खेलेगा।
    
लगातार अच्छे प्रदर्शन के लिये मिस्टर क्रिकेट कहे जाने वाले हसी ने अभी तक 78 टेस्ट में 6183 रन बनाये हैं जिसमें 19 शतक और 29 अर्धशतक शामिल हैं। वनडे क्रिकेट में उन्होंने 185 मैच खेलकर 5442 रन बनाये जिसमें तीन शतक और 39 अर्धशतक हैं। वह 2007 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे। उन्होंने 38 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेले।
    
ऑस्ट्रेलियाई कोच मिकी आर्थर ने उनके फैसले पर हैरानी जताई। आर्थर ने ट्विटर पर लिखा कि मैं हैरान रह गया जब हसी ने मुझे अपने फैसले के बारे में बताया। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उनकी ओर से जारी बयान में कहा , ऑस्ट्रेलिया के 393वें टेस्ट क्रिकेटर हसी अपना 79वां और आखिरी टेस्ट सिडनी में खेलेंगे। वह सत्र के बाकी वनडे मैच खेलेंगे और डब्ल्यूए वॉरियर्स तथा पर्थ स्क्रोचर्स के लिये भी उपलब्ध रहेंगे।
      
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अध्यक्ष वेली एडवडर्स ने कहा कि माइकल का करियर बेहतरीन रहा। वह शानदार खिलाड़ी, टीममैन और मैदान के भीतर तथा बाहर बेहतरीन इंसान रहे। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी जेम्स सदरलैंड ने कहा कि हसी के संन्यास से ऑस्ट्रेलिया को अपार क्षति हुई है। उन्होंने हालांकि उन्हें बेहतर भविष्य के लिये शुभकामना दी।
   
उन्होंने कहा कि माइकल हसी ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को काफी योगदान दिया है। मिस्टर क्रिकेट बुलाये जाने वाले हसी लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे। वह काफी भरोसेमंद खिलाड़ी थे और ऑस्ट्रेलिया के महानतम बल्लेबाजों में से एक रहे।

उन्होंने कहा कि मैं उन्हें सफल करियर की बधाई देता हूं। हम उसे बेहतर भविष्य के लिये शुभकामना भी देता हूं।

 
 
 
टिप्पणियाँ