शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 12:30 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
समारोह में बीजेपी नेता अमित शाह भी मौजूदप्रधानमंत्री ने सफाई अभियान में मदद के लिये की तारीफआजादी के बाद माहौल बन गया था कि सब सरकार करेगी, लेकिन अब सब मिलकर करेंगे: मोदीजितना स्वास्थ्य जरूरी उतना ही स्वास्थ्य के लिये जागरुकता : मोदीमोदी ने कहा, सफाई राष्ट्रीय कर्तव्य हैबीजेपी के दीवाली समारोह में पीएम मोदीपत्रकारों से कहा, आपसे काफी दोस्ताना रिश्ता रहा हैमैं भी आपके लिये कुर्सियां लगाता था : मोदीमोदी : कभी कभार आपसे दृष्टी भी मिलती है
युवराज ने पूरा किया छक्कों का अर्धशतक
अहमदाबाद, एजेंसी First Published:28-12-12 08:46 PM
Image Loading

युवराज सिंह टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में छक्कों का अर्धशतक पूरा करने वाले दुनिया के पांचवें और भारत के पहले बल्लेबाज बन गये हैं। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने शुक्रवार को पाकिस्तान के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में सात छक्के लगाकर यह उपलब्धि हासिल की।

पांच साल पहले डरबन में इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में छह छक्के जड़ने वाले युवराज के नाम पर अब 33 मैच में 54 छक्के दर्ज हैं। टी20 क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के न्यूजीलैंड के ब्रैंडन मैक्कुलम (57 मैच में 68) ने लगाये हैं। उनके बाद ऑस्ट्रेलिया के शेन वाटसन (36 मैच में 62), वेस्टइंडीज के क्रिस गेल (31 मैच में 59), युवराज और ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर (42 मैच में 51 छक्के) का नंबर आता है।

युवराज टी20 अंतरराष्ट्रीय में 50 से ज्यादा छक्के लगाने वाले खिलाड़ियों में अकेले ऐसे बल्लेबाज हैं जिनके नाम पर चौकों की तुलना में अधिक छक्के दर्ज हैं। युवराज ने अब तक केवल 45 चौके लगाये हैं। उन्होंने आज की अपनी पारी के दौरान सात छक्के लगाये। यह दूसरा अवसर है जबकि उन्होंने एक पारी में सात छक्के जड़े। इससे पहले उन्होंने 2007 में डरबन में इंग्लैंड के खिलाफ यह कारनामा किया था।

यही नहीं पाकिस्तान के खिलाफ पहली बार किसी बल्लेबाज ने सात छक्के लगाये। इससे पहले माइक हसी और डेविड वॉर्नर ने पाकिस्तान के खिलाफ छह-छह छक्के लगाये थे। युवराज ने अपनी पारी के दौरान कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के साथ चौथे विकेट के लिये 97 रन की साझेदारी है जो भारत के लिये नया रिकॉर्ड है।

इससे पहले का रिकॉर्ड भी युवराज और धौनी के नाम पर था। उन्होंने 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ डरबन में 61 रन जोड़े थे।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ