शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 00:28 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    नौकरानी की हत्या: धनंजय को जमानत, जागृति के रिकार्ड मांगे अमर सिंह के समाजवादी पार्टी में प्रवेश पर उठेगा पर्दा योगी आदित्य नाथ ने दी उमा भारती को चुनौती देश में मौजूद कालेधन पर रखें नजर : अरुण जेटली शिक्षा को लेकर मोदी सरकार पर आरएसएस का दबाव कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं
सचिन का संन्यास चयनकर्ताओं के लिये राहत: प्रसन्ना
बेंगलूर, एजेंसी First Published:24-12-12 08:08 PM
Image Loading

पूर्व टेस्ट ऑफ स्पिनर ईरापल्ली प्रसन्ना ने सोमवार को कहा कि सचिन तेंदुलकर के वनडे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने से राष्ट्रीय चयनकर्ताओं को बड़ी राहत मिली होगी।

प्रसन्ना ने कहा कि सचिन का वनडे से संन्यास यथार्थवादी फैसला है। इससे चयनकर्ताओं को राहत मिली होगी। इससे वे वनडे मैचों में उनके चयन या बाहर करने की उलझन से बच जाएंगे। यदि उन्हें बाहर किया जाता तो कई चयनकर्ताओं के फैसले पर सवाल उठाते और यदि उन्हें टीम में लिया जाता तो कई उनकी क्षमता पर सवाल खड़े करते।

उन्होंने कहा कि यदि तेंदुलकर असफल रहते तो वह टीम पर बोझ बन जाते और निश्चित तौर पर वह सुपर क्रिकेटर हैं, आइकन हैं, लेकिन साथ ही इंसान हैं जिनके रिफलेक्सेस वैसे नहीं हैं जो 20 साल जैसे थे।

प्रसन्ना ने कहा कि सचिन ने टेस्ट मैचों में ध्यान केंद्रित करने के लिये वनडे से संन्यास लिया क्योंकि वह हाल में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहे थे तथा टेस्ट मैचों को अलविदा कहने से पहले उसमें अच्छा प्रदर्शन करने के लिये प्रतिबद्ध हैं।

उन्होंने कहा कि वह जानते हैं कि लोग वनडे और टी20 मैचों को भूल जाते हैं। एक खिलाड़ी को पांच दिवसीय मैचों में उसके प्रदर्शन के लिये याद किया जाता है।

 

 
 
 
टिप्पणियाँ