मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 21:22 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
यूपीः कांवड़ यात्रा में डीजे पर प्रतिबंध लगाये जाने के विरोध में मंगलवार देर शाम दससराय पुलिस चौकी के सामने हिंदू संगठनों ने जाम लगाकर नगर विकास मंत्री आजम का पुतला फूंका।
सचिन का संन्यास चयनकर्ताओं के लिये राहत: प्रसन्ना
बेंगलूर, एजेंसी First Published:24-12-2012 08:08:22 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

पूर्व टेस्ट ऑफ स्पिनर ईरापल्ली प्रसन्ना ने सोमवार को कहा कि सचिन तेंदुलकर के वनडे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने से राष्ट्रीय चयनकर्ताओं को बड़ी राहत मिली होगी।

प्रसन्ना ने कहा कि सचिन का वनडे से संन्यास यथार्थवादी फैसला है। इससे चयनकर्ताओं को राहत मिली होगी। इससे वे वनडे मैचों में उनके चयन या बाहर करने की उलझन से बच जाएंगे। यदि उन्हें बाहर किया जाता तो कई चयनकर्ताओं के फैसले पर सवाल उठाते और यदि उन्हें टीम में लिया जाता तो कई उनकी क्षमता पर सवाल खड़े करते।

उन्होंने कहा कि यदि तेंदुलकर असफल रहते तो वह टीम पर बोझ बन जाते और निश्चित तौर पर वह सुपर क्रिकेटर हैं, आइकन हैं, लेकिन साथ ही इंसान हैं जिनके रिफलेक्सेस वैसे नहीं हैं जो 20 साल जैसे थे।

प्रसन्ना ने कहा कि सचिन ने टेस्ट मैचों में ध्यान केंद्रित करने के लिये वनडे से संन्यास लिया क्योंकि वह हाल में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहे थे तथा टेस्ट मैचों को अलविदा कहने से पहले उसमें अच्छा प्रदर्शन करने के लिये प्रतिबद्ध हैं।

उन्होंने कहा कि वह जानते हैं कि लोग वनडे और टी20 मैचों को भूल जाते हैं। एक खिलाड़ी को पांच दिवसीय मैचों में उसके प्रदर्शन के लिये याद किया जाता है।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।